धोनी के दस्‍तानों पर बरकरार रहेगा ‘बलिदान’ बैज, BCCI ने ICC को सुनाई खरी-खरी

वर्ल्‍ड कप के पहले मैच में, दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ उतरे धोनी के दस्‍तानों पर भारतीय पैरा स्पेशल फोर्स का निशान नजर आया था.
धोनी के दस्‍तानों, धोनी के दस्‍तानों पर बरकरार रहेगा ‘बलिदान’ बैज, BCCI ने ICC को सुनाई खरी-खरी

नई दिल्‍ली: भारतीय विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी के दस्‍तानों पर सेना के ‘बलिदान बैज’ का होना ICC को अखर रहा है. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) और प्रशासकों की समिति (CoA) ने माही का साथ दिया है. CoA प्रमुख विनोद राय ने कहा कि ‘यह बैज न तो व्‍यापारिक है, न ही धार्मिक, यह बैज तो धोनी की रेजिमेंट का भी नहीं है.’ उन्‍होंने कहा कि बोर्ड ICC से अनुमति लेने की औपचारिकता पूरी करेगा.

ICC के महाप्रबंधक, रणनीति समन्व्य, क्लेयर फरलोंग ने कहा है कि अगर BCCI अनुमति मांगता है तो उसपर ICC विचार करेगा. वर्ल्‍ड कप के पहले मैच में, दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ उतरे धोनी के दस्‍तानों पर भारतीय पैरा स्पेशल फोर्स का निशान नजर आया था. इसके बाद ICC ने BCCI से कहा था कि वह धोनी के दस्‍तानों से यह बैज हटवाए.

धोनी के दस्‍तानों, धोनी के दस्‍तानों पर बरकरार रहेगा ‘बलिदान’ बैज, BCCI ने ICC को सुनाई खरी-खरी

धोनी के दस्तानों पर ‘बलिदान ब्रिगेड’ का चिन्ह है. सिर्फ पैरामिलिट्री कमांडो को ही यह चिन्ह धारण करने का अधिकार है. धोनी को 2011 में पैराशूट रेजिमेंट में लेफ्टिनेंट कर्नल की मानद उपाधि मिली थी. धोनी ने 2015 में पैरा ब्रिगेड की ट्रेनिंग भी ली है.

क्‍या है नियम

सोशल मीडिया पर धोनी की काफी तारीफ हो रही है, लेकिन ICC की सोच और नियम अलग हैं. ICC के नियम के मुताबिक, “आईसीसी के कपड़ों या अन्य चीजों पर अंतर्राष्ट्रीय मैच के दौरान राजनीति, धर्म या नस्लभेदी जैसी चीजों का संदेश नहीं होना चाहिए.”

यह पहली बार नहीं है जब धोनी ने मैदान के अंदर सुरक्षा बलों के प्रति अपना सम्मान दिखाया. उन्होंने इससे पहले मार्च में आस्ट्रेलिया के साथ हुए वनडे मैच के दौरान भी आर्मी वाली कैप पहनकर विकेटकीपिंग की थी.

ये भी पढ़ें

WI के शेल्डन कॉट्रेल ने लपका वर्ल्ड कप 2019 का अब तक का सबसे हैरतअंगेज कैच, देखिए Video

सिर्फ 42 ओवर के मैच में इस भारतीय बल्लेबाज ने बना डाले नाबाद 187 रन

Related Posts