बार-बार बैट का स्पॉन्सर क्यों बदल रहे हैं MS धोनी?

धोनी के एक ही मैच में अलग-अलग ब्रांड्स के स्टीकर के बल्लों के साथ खेलने से क्रिकेट फैंस में ये चर्चा है कि वह जल्द संन्यास लेने वाले हैं.

नई दिल्ली. पूर्व भारतीय कप्तान व विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी इंग्लैंड में चल रहे वर्ल्ड कप में अलग-अलग ब्रांड्स के स्टीकर के बल्लों के साथ खेल रहे हैं. वैसे ज्यादातर फैंस धोनी को ‘रीबॉक के बल्ले’ से जोड़ के देखते हैं. हालांकि, इंग्लैंड में चल रहे वर्ल्ड कप में वह तीन ब्रांड के स्टीकर के बल्लों के साथ खेल रहे हैं.

इंग्लैंड और बांग्लादेश के खिलाफ आखिरी दो मैचों में धोनी SG के लोगो के बल्ले के साथ मैदान पर उतरे. वहीं, अपनी पारी के अंत में जब तेज रनों की दरकार थी तब धोनी BAS के लोगो वाले बल्ले से बल्लेबाजी करते दिखे.

, बार-बार बैट का स्पॉन्सर क्यों बदल रहे हैं MS धोनी?

धोनी के मैनेजर अरुण पांडे ने मुंबई मिरर, “यह सच है कि वह अलग अलग ब्रांड्स के अलग-अलग बल्लों का इस्तेमाल कर रहे थे. वह इसलिए बल्ले नहीं बदल रहे थे कि कोई बल्ला खराब है. वह इन्हें करियर के विभिन्न चरणों में मदद के लिए शुक्रिया कह रहे थे.” उन्होंने आगे कहा, “उन्हें पैसों की कोई जरूरत नहीं है. वह उनके पास पहले से ही बहुत है. अलग-अलग बल्लों का इस्तेमाल उनका सद्भावना दिखने का प्रयास था. BAS शुरू से उनके साथ है और SG भी उनके करियर में काफी मददगार रहा है.”

आमतौर पर टॉप क्रिकेट खिलाड़ी ब्रांड्स के स्टीकर बल्ले पर लगाने के लिए 4 से 5 करोड़ रुपए सालाना लेते हैं. धोनी के बल्ले को इस समय कोई स्पॉन्सर नहीं है, क्योंकि जिस ऑस्ट्रलियन कंपनी (स्पार्टन) के साथ उनकी डील थी वह कानूनी पचड़े में पड़ गई है.

धोनी के प्रशंसको में इस बात की चर्चा है कि धोनी ऐसा इसलिए कर रहे हैं क्योंकि वह संन्यास की घोषणा करने वाले हैं. ऐसे ही कयास तब भी लगाए जा रहे थे जब उन्होंने मैच ऐसे ही कयास लगाए जा रहे थे जब धोनी ने हाल के मैच के बाद अंपायरों से गेंद मांगी थी.

ये भी पढ़ें: LIVE मैच के दौरान ‘भारतीय’ महिला ने लगाए पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे, ढूंढ रही गुजरात पुलिस

ये भी पढ़ें: किसके कहने पर नहीं चुने गए अंबाती रायडू, हुआ खुलासा