कोरोना से निजात मिलते ही न्यूजीलैंड के हौसले बुलंद हैं

Coronavirus मुक्त देश होने के बाद न्यूज़ीलैंड (New Zealand) में जिंदगी पटरी पर लौट रही है. खेलों की दुनिया में भी ऐक्शन शुरू होने जा रहा है. और ये ऐक्शन शुरू होगा रग्बी के मुकाबले से. जो शनिवार को खेला जाएगा.

  • Sport Desk
  • Publish Date - 4:20 pm, Thu, 11 June 20

ऐसे मुश्किल समय में जब दुनिया के कई देशों में COVID-19 की स्थिति बेकाबू हो रही है तब न्यूज़ीलैंड (New Zealand) में लोग राहत की सांस ले रहे हैं. न्यूज़ीलैंड कोरोना मुक्त देश हो चुका है. पिछले करीब तीन हफ्ते से वहां कोरोना का कोई ‘एक्टिव’ केस नहीं मिला है. इसके अलावा कोई ‘एक्टिव’ मरीज भी नहीं हैं.

यही वजह है कि न्यूज़ीलैंड में जिंदगी पटरी पर लौट रही है. खेलों की दुनिया में भी ऐक्शन शुरू होने जा रहा है. और ये ऐक्शन शुरू होगा रग्बी (Rugby) के मुकाबले से. जो शनिवार को खेला जाएगा.

कोरोना की वजह से लंबे समय से इस प्रतियोगिता पर रोक लगी हुई थी. दुनिया भर में इसे सुपर रग्बी को बड़ी प्रतियोगिताओं में शुमार किया जाता है. पूरी दुनिया में कोरोना के बाद दशर्कों की मौजूदगी में होने वाली ये पहली प्रोफेशनल प्रतियोगिता होगी.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

20 हजार दर्शकों के जमा होने की उम्मीद

ऐसी उम्मीद है कि इस रग्बी मैच के लिए 20 हजार दर्शक पहुंचेंगे. इसके अगले ही दिन रविवार को ऑकलैंड में होने वाले मैच में 30 हजार से ज्यादा दर्शकों के जमा होने की उम्मीद है. इस मुकाबले में नेशनल टीम के कई खिलाड़ी भी उतरेंगे.

इससे पहले न्यूज़ीलैंड की सरकार ने एक जगह पर इकट्ठा होने वाले लोगों की तादाद पर लगी रोक को हटा दिया था. सोशल डिस्टेंसिंग पर लगी रोक के हटने से अब स्टेडियम में क्षमता के मुताबित खेलप्रेमी जमा हो सकते हैं.

न्यूज़ीलैंड ‘न्यूट्रल वेन्यू’ भी बनने को तैयार है

पिछले दिनों न्यूज़ीलैंड क्रिकेट बोर्ड की तरफ से भी बयान आया था कि अब न्यूज़ीलैंड क्रिकेट सीरीज के लिए न्यूट्रल वेन्यू बनने को भी तैयार है. इसका आशय ये हुआ कि दुनिया की कोई भी दो टीमें न्यूज़ीलैंड जाकर क्रिकेट खेल सकती हैं.

हाल के दिनों में दूसरे देशों में भी खेलों की बहाली होना शुरू हुई है. ला लीगा लीग शुरु होने जा रही है. इसके अलावा वेस्टइंडीज की टीम इंग्लैंड पहुंच चुकी है. जहां जुलाई में तीन टेस्ट मैचों की सीरीज वो खेलेगी.

इसके बाद पाकिस्तान की टीम भी इंग्लैंड के दौरे पर जाने की तैयारी में है. जहां उसे टेस्ट और टी-20 मैचों की सीरीज खेलनी है. हालांकि चिंता की बात ये है कि न्यूज़ीलैंड के करीबी देश ऑस्ट्रेलिया की स्थिति अभी पूरी तरह काबू में नहीं है. यही वजह है कि साल के अंत में ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी-20 विश्व कप पर अब भी संकट के बादल मंडरा रहे हैं.