अब क्रिकेटर्स का भी होगा डोप टेस्ट, NADA के तहत आया BCCI

हाल ही में वर्ल्ड एंटी डोपिंग एजेंसी (वाडा) ने आईसीसी को साफ किया कि BCCI को NADA के तहत आना होगा. इसके बाद आईसीसी ने ये बात दुबई में हुई बोर्ड मीटिंग में BCCI के सामने रखी.

नई दिल्ली: खेल मंत्रालय ने ये साफ कर दिया है कि अब भारतीय क्रिकेटर्स को भी डोपिंग के लिए टेस्ट देना होगा. उनका डोप टेस्ट नेशनल एंटी डोपिंग एजेंसी (NADA) करेगी. मंत्रालय ने BCCI को कहा कि उनके पास नियमों को मानने के अलावा कोई और विकल्प नहीं है.

BCCI ने भी खेल मंत्रालय के इस फैसले को स्वीकार किया है. मालूम हो कि अब तक BCCI, NADA के तहत आने का विरोध करता रहा है, ये पहली बार है जब वह क्रिकेटर्स के डोपिंग टेस्ट के लिए मंत्रालय की बात माना है. हाल ही में वर्ल्ड एंटी डोपिंग एजेंसी (WADA) ने आईसीसी को साफ किया कि BCCI को NADA के तहत आना होगा. इसके बाद आईसीसी ने ये बात दुबई में हुई बोर्ड मीटिंग में BCCI के सामने रखी.

खेल सचिव राधेश्याम जुलानिया ने BCCI सीईओ राहुल जोहरी से मुलाकात के बाद कहा कि बोर्ड ने लिखित में दिया है कि वह NADA की एंटी डोपिंग पॉलिसी का पालन करेगा और सभी खिलाड़ियों का डोप टेस्ट NADA करेगा. उन्होंने बताया कि BCCI ने उनके समक्ष तीन सुविधाओं की मांग रखी हैं, हमें ये सुविधाएं उनको देंगे, जिसका कुछ शुल्क भी लगेगा.

ये भी पढ़ें: शुभमन गिल ने विंडीज A के खिलाफ ठोंकी डबल सेंचुरी, तोड़ डाला गौतम गंभीर का ये रिकॉर्ड