क्या पाकिस्तान की हार के बाद हेड कोच मिस्बाह उल हक पर गिरने वाली है गाज?

पाकिस्तान (Pakistan) के पूर्व कप्तान रमीज राजा ((Rameez Raja) ने इस हार के लिए मिस्बाह उल हक को भी जिम्मेदार ठहराया है. उन्होंने कहा कि – ‘मुझे उस मुश्किल वक्त में कोचिंग स्टाफ से उम्मीद थी कि वो कुछ करेंगे.

Only Pakistan could have lost from that position, क्या पाकिस्तान की हार के बाद हेड कोच मिस्बाह उल हक पर गिरने वाली है गाज?

इंटरनेशनल क्रिकेट (International Cricket) में इस वक्त पाकिस्तान और इंग्लैंड (Pakistan and England) के बीच चल रही टेस्ट सीरीज (Test Series) पर सभी की नजरें टिकी हुई हैं. पाकिस्तान टीम की शुरूआत बेहद खराब हुई. वो हाथ में आई जीत का स्वाद नहीं चख पाई, लेकिन इस हार से अब पाकिस्तान आगे निकलने की बात कर रहा है.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

पाकिस्तान के हेड कोच मिस्बाह उल हक (Misbah-ul-Haq) का मानना है कि आलोचना करना आसान है, लेकिन हार और जीत के बीच के फर्क को समझना मुश्किल है. वहीं पाकिस्तान (Pakistan) के पूर्व कप्तान रमीज राजा (Rameez Raja) ने पाकिस्तान टीम मैनेजमैंट पर सवाल उठा दिए हैं. उनका कहना था कि कप्तान अजहर अली और यासिर शाह को कोच की ओर से कोई सलाह नहीं दी गई. ये बहुत निराशाजनक है.

‘40 रन लुटा दिए और मिस्बाह देखते रहे’

मैनचेस्टर टेस्ट मैच की हार पाकिस्तान अब तक भुला नहीं पाया है. पाकिस्तान (Pakistan) के पूर्व कप्तान रमीज राजा (Rameez Raja) ने इस हार के लिए मिस्बाह उल हक को भी जिम्मेदार ठहराया है.

उन्होंने कहा कि – ‘मुझे उस मुश्किल वक्त में कोचिंग स्टाफ से उम्मीद थी कि वो कुछ करेंगे, क्योंकि वो सभी अपने करियर में इन परिस्थितियों से गुजर चुके हैं. जब आपके पास ऐसा कप्तान है जो अभी अच्छी फॉर्म में नहीं है, उस वक्त कोचिंग स्टाफ को ज्यादा तत्परता दिखानी चाहिए थी. साथ ही बाहर बैठकर वो स्थिति बेहतर समझ रहे थे.

इंग्लैंड को पाकिस्तान ने आराम से ‘सिंग्लस’ लेने का मौका दिया, करीब 40 रन वोक्स और बटलर ने प्वाइंट से बनाए. किसी ने अजहर और यासिर को उस ‘गैप’ को भरने की सलाह नहीं दी. मुझे फील्ड सेट-अप को देखकर गुस्सा आ रहा था. बाउंसर भी आजमाए नहीं गए, रणनीति में बदलाव की जरूरत थी, लेकिन दुर्भाग्य से ऐसा नहीं हुआ’.

ऑस्ट्रेलिया दौरे पर भी फेल हुआ था मिस्बाह का प्लान

पाकिस्तान के हेड कोच और चीफ सेलेक्टर मिस्बाह उल हक (Misbah-ul-Haq) इससे पहले भी आलोचना झेल चुके हैं. यूनुस खान को इंग्लैंड दौरे के लिए पाकिस्तान का बल्लेबाजी कोच बनाने के पीछे भी ये कहा गया कि पीसीबी मिस्बाह को बचाने के लिए यूनुस को लेकर आया है. क्योंकि ऑस्ट्रेलिया दौरे पर मिस्बाह ने कई बड़े फैसले लिए थे, लेकिन फिर भी पाकिस्तान को शर्मनाक हार से बचा नहीं पाए थे.

इसके लिए पाकिस्तान के कई पूर्व खिलाड़ियों ने मिस्बाह को जिम्मेदार ठहराया था, लेकिन अब इंग्लैंड दौरे पर हो रही पाकिस्तान की हार के बाद एक बार फिर मिस्बाह आलोचकों के निशाने पर आ चुके हैं.

मिस्बाह उल हक ( (Misbah-ul-Haq) को पाकिस्तान का हेड कोच और चीफ सेलेक्टर बने करीब एक साल हो चुका है. इसके बावजूद पाकिस्तान टीम (Pakistan team) हर कड़ी परीक्षा में फेल हो रही है. ऐसे में अगर इंग्लैंड दौरे पर भी पाकिस्तान टीम अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाई, तो मिस्बाह पर भी गाज गिरने की आशंका जताई जा रही है, जिसकी उल्टी गिनती शायद शुरु भी हो गई है.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts