Cricket World Cup: इंग्लैंड ने भारत के साथ पाकिस्तान को भी दी पटखनी

इंग्लैंड की टूर्नामेंट के आठ मैचों में यह पांचवीं जीत है और अब उसके 10 अंक हो गए हैं. इंग्लैंड की टीम अंकतालिका में शीर्ष-चार में पहुंच गई है.

लंदन. ICC विश्व कप-2019 में भारतीय टीम को रविवार को पहली हार का सामना करना पड़ा. बर्मिंघम के एजबेस्टन मैदान पर इंग्लैंड ने टीम इंडिया को 31 रन से मात दी. इस जीत के साथ इंग्लैंड ने अपनी सेमीफाइनल में पहुंचने की उम्मीदों को जिंदा रखा और पॉइंट्स टेबल में पाकिस्तान को पछाड़कर चौथा स्थान हासिल किया.

मेजबान इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 50 ओवर में सात विकेट पर 337 रनों का स्कोर बनाया और फिर भारत को 50 ओवरों में पांच विकेट पर 306 रनों पर रोक दिया. वर्ष 1992 के बाद से यह पहला मौका है जब विश्व कप के किसी मैच में इंग्लैंड ने भारत को मात दी है.

पाक, बंगला और श्रीलंकाई समर्थकों का भी दिल टूटा 

भारत-इंग्लैंड के साथ-साथ पाकिस्तान, बांग्लादेश और श्रीलंका की टीमें भी इस मैच में इंटरेस्ट ले रही थी. जहां इंग्लैंड को सेमीफाइनल में पहुंचने के लिए ये जीत जरुरी थी, वहीं इंग्लैंड की हार से पाकिस्तान, बांग्लादेश और श्रीलंका की सेमीफाइनल में पहुंचने की उम्मीदों को जोर मिलता. इस हिसाब से भारत के साथ-साथ इंग्लैंड ने इन तीन एशियाई देशों के समर्थकों का भी दिल तोड़ दिया.

पॉइंट्स टेबल में चौथे स्थान पर पहुंची इंग्लैंड

इस क्रिकेट वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में लीग मैचों के पॉइंट्स टेबल की टॉप-4 टीमें सेमीफाइनल में जगह बनाएंगी. रविवार को भारत के खिलाफ जीत के साथ इंग्लैंड पॉइंट्स टेबल में पाकिस्तान को पछाड़कर चौथे स्थान पर पहुंच गई है. उसके 8 मैचों में 5 जीत के साथ 10 अंक हैं. उसका आखिरी मुकाबला न्यूजीलैंड के खिलाफ है, जिसे जीतने पर उसकी सेमीफाइनल में जगह पक्की हो जाएगी. इससे पहले पाकिस्तान 8 मैचों में 9 अंकों के साथ चौथे स्थान पर थी. लेकिन इंग्लैंड की जीत से अब वह पांचवें स्थान पर आ गई है. पाकिस्तान को अपने आखिरी मुकाबले में बांग्लादेश पर जीत के साथ य भी दुआ करनी होगी की इंग्लैंड अपना आखिरी मैच हार जाए.

ये भी पढ़ें: IND vs ENG: रोहित,शमी और कोहली ने बनाए ये ‘विराट’ रिकॉर्ड, चहल बने अब तक के सबसे खर्चीले स्पिनर

सेमीफाइनल का गणित 

8 मैचों में 7 जीत के साथ 14 अंक लेकर ऑस्ट्रेलिया सेमीफाइनल में पहुंच चुकी है. दूसरे नंबर पर टीम इंडिया 7 मैचों में 5 जीत के साथ 11 अंक लेकर है. उसे अपने बचे हुए दो मैचों (बांग्लादेश, श्रीलंका)  में एक जीतना होगा. तीसरे पर न्यूजीलैंड के 8 मैच में 11 अंक हैं, उसे सेमीफाइनल में पहुंचने के लिए इंग्लैंड के खिलाफ अपना मैच जीतना होगा. नहीं तो उसे बाकी की टीमों के रिजल्ट पर निर्भर होना होगा. हालांकि उसका पॉजिटिव नेट रन रेट उसके काम आ सकता है. चौथे पर इंग्लैंड 8 मैचों में 5 जीत के साथ है. उसको अपना आखिरी मुकाबला जीतना होगा. पाकिस्तान को भी अपना आखिरी मुकाबला जीतना होगा और दूसरों के रिजल्ट पर निर्भर रहना होगा. बांग्लादेश को भारत और पाकिस्तान के खिलाफ बचे हुए अपने दोनों मुकाबले जीतने होंगे.

ये भी पढ़ें: IND vs ENG: टीम इंडिया की हार के बाद महबूबा मुफ्ती का बयान- ‘भगवा जर्सी के कारण हारी टीम इंडिया’

बांग्लादेश अभी भी सेमीफाइनल में जा सकती है

इससे उसके 11 अंक हो जाएंगे और वह सेमीफाइनल में पहुंच सकता है. अगर बांग्लादेश अपने दोनों मुकाबले जीत गया तो उसका सेमीफाइनल में पहुंचना लगभग तय है. श्रीलंका अब अधिकतम 10 अंक तक पहुंच सकती है और उसकी उम्मीदें बहुत कम हैं. उसका नेट रन रेट माइनस में है और चार टीमें पहले ही 10 अंकों पर या उससे ऊपर हैं, और उन सभी टीमों का नेट रन रेट पॉजिटिव में है. साउथ अफ्रीका, वेस्ट इंडीज और अफगानिस्तान सेमीफाइनल की रेस से बाहर हो चुकी है.