दानिश कनेरिया को क्रिकेट में वापसी करनी है तो ECB से करें संपर्क : पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड

दानिश कनेरिया (Danish Kaneria) पाकिस्तान के सबसे क़ामयाब स्पिनर हैं. पाकिस्तान (Pakistan Cricket Team) के सबसे क़ामयाब गेंदबाज़ों की फ़ेहरिस्त में भी वो टॉप 5 खिलाड़ियों में शामिल हैं.
PCB to danish kaneria, दानिश कनेरिया को क्रिकेट में वापसी करनी है तो ECB से करें संपर्क : पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (Pakistan Cricket Board) ने आखिरकार स्पिनर दानिश कनेरिया (Danish Kaneria) के मामले में अपनी चुप्पी तोड़ी है. PCB की तरफ़ से कहा गया है कि दानिश कनेरिया अगर क्रिकेट के मैदान में वापसी चाहते हैं तो इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड से संपर्क करें, क्योंकि उन पर बैन इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड ने ही लगाया था. ECB के एंटी करप्शन कोड के नियम 6.8 के मुताबिक़ बैन किए गए खिलाड़ी को क्लीन चिट देने का अधिकार सिर्फ़ उन्हीं के पास है. ECB के लगाए गए बैन के बाद ही सभी सदस्य बोर्ड ने दानिश कनेरिया पर प्रतिबंध लगाया था.

PCB का कहना है कि अगर यह प्रतिबंध हटाना है तो यह फ़ैसला ECB ही कर सकता है. दरअसल, दानिश कनेरिया पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड से लगातार गुहार लगा रहे थे कि उन्हें घरेलू क्रिकेट में खेलने की इजाज़त दी जाए. दानिश कनेरिया को काउंटी में इंग्लिश क्लब एसेक्स के लिए खेलने के दौरान स्पॉट फिक्सिंग का दोषी पाया गया था. इसके बाद उनके ऊपर बैन लगा दिया गया था.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

कनेरिया की दलील थी कि इसी गलती में शामिल दूसरे खिलाड़ियों को बैन के बाद क्लीन चिट भी दे दी गई. कुछ खिलाड़ियों को पाकिस्तान की टीम में वापसी का मौक़ा भी दिया गया. जबकि दानिश कनेरिया के साथ पीसीबी की तरफ़ से किसी भी तरह की रियायत नहीं बरती जा रही है. अब पीसीबी ने उनकी बात का जवाब दिया है.

दानिश कनेरिया की लीगल टीम ने पीसीबी को लिखी थी चिट्ठी

दानिश कनेरिया की लीगल टीम की तरफ़ से भी पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड से गुहार लगायी गई थी. PCB चेयरमैन एहसान मनी को लिखी गई चिट्ठी में कहा गया था कि दानिश कनेरिया इस समय प्रोफ़ेशनल और पर्सनल दोनों तरफ़ से बुरे समय से गुज़र रहे हैं. क्रिकेट उनकी रोज़ी रोटी का इकलौता ज़रिया है और वो ‘बैन’ की वजह से बुरी तरह प्रभावित हुआ है.

इस चिट्ठी में PCB से गुहार लगायी गई थी कि वो ICC को चिट्ठी लिखकर घरेलू क्रिकेट में दानिश कनेरिया के खेलने की मंज़ूरी दिलाए. दानिश कनेरिया ने PCB को लिखी गई चिट्ठी को सोशल मीडिया में भी साझा किया था. दानिश कनेरिया ने फिक्सिंग को लेकर आईसीसी के जागरूकता कार्यक्रमों में भी शामिल होने की बात मानी है.

अल्पसंख्यक होने की वजह से मदद न मिलने का आरोप

इससे पहले दानिश कनेरिया ने ये भी कहा था कि अल्पसंख्यक होने की वजह से पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने उनकी मदद नहीं की. उन्होंने टीम के कुछ पूर्व खिलाड़ियों पर भेदभाव का आरोप भी लगाया था. उनका कहना था कि उनकी टीम के ही कुछ खिलाड़ी उनके साथ खाना पसंद नहीं करते थे. दानिश कनेरिया का इशारा शाहिद अफ़रीदी की तरफ़ था.

दानिश कनेरिया के पक्ष में कुछ पूर्व क्रिकेटर्स ने भी पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड से उन्हें माफ़ी देने की गुहार लगायी थी. आपको बता दें कि दानिश कनेरिया पाकिस्तान के सबसे क़ामयाब स्पिनर हैं. पाकिस्तान के सबसे क़ामयाब गेंदबाज़ों की फ़ेहरिस्त में भी वो टॉप 5 खिलाड़ियों में शामिल हैं. दानिश कनेरिया ने 61 मैचों में 261 विकेट लिए हैं.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

Related Posts