संदिग्ध गेंदबाजी: रायडू से पहले इन क्रिकेटर्स पर भी पड़ चुकी है सस्पेंशन की मार

ambati rayudu cricket ICC indian cricket bowling action ban, संदिग्ध गेंदबाजी: रायडू से पहले इन क्रिकेटर्स पर भी पड़ चुकी है सस्पेंशन की मार

नई दिल्ली: अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) ने भारतीय क्रिकेटर अंबाती रायडू को इंटरनेशनल क्रिकेट में गेंदबाजी करने से सस्पेंड कर दिया है. मामला ऑस्ट्रेलिया दौरे का है जब सिडनी वनडे में बॉलिंग करने के दौरान रायडू के एक्शन को लेकर शिकायत की गई थी. रायडू ने उस मैच के दौरान दो ओवर फेंके थे और बिना किसी सफलता के 13 रन दिए थे. ICC ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी. ICC ने अपने बयान में कहा, ‘ अंबाती रायडू को अपनी गेंदबाजी की रिपोर्ट पेश करने का जो तय समय दिया गया था वे उस तय समय में अपनी रिपोर्ट पेश करने में असफल रहे और इसी वजह से उन्हें ICC के कोड ऑफ कंडक्ट के खण्ड 4.2 के तहत दोषी पाए जाने के कारण गेंदबाजी करने से निलंबित कर दिया गया है.’

ICC के नियमानुसार अगर गेंद फेंकने के दौरान किसी गेंदबाज का हाथ 15 डिग्री से ज्यादा मुड़ता है तो वह बॅालिंग ऐक्शन अवैध माना जाता है और ICC उस गेंदबाज पर प्रतिबंध भी लगा सकती है. रायडू ने तय समय में अपनी रिपोर्ट ICC को नहीं सौंपी जिसकी वजह से उन पर यह बैन लगा दिया गया लेकिन रायडू ऐसे पहले खिलाड़ी नहीं हैं जिन पर संदिग्ध बॅालिंग ऐक्शन की वजह से बैन लगाया गया है उनसे पहले भी बहुत से खिलाड़ियों पर इसकी गाज गिर चुकी है. आइए जानते हैं कुछ ऐसे ही खिलाड़ियों के बारे में –

1. एर्नी जोन्स: ICC ने सबसे पहले ऑस्ट्रेलिया के एर्नी जोन्स को 1898 में मेलबर्न टेस्ट मैच में संदिग्ध गेंदबाजी को लेकर बैन किया था.

2. मधुसूदन रेगे: ये सबसे पहले भारतीय क्रिकेटर थे जिन पर 1951 में संदिग्ध गेंदबाजी को लेकर बैन लगाया गया था.

3. आबिद अली: ये दूसरे भारतीय क्रिकेटर थे जिन पर 1968 में क्राइस्टचर्च में टेस्ट मैच में गेंदबाजी ऐक्शन को लेकर बैन लगाया गया था.

4. मुथैया मुरलीधरन: श्रीलंकन स्पिनर मुथैया मुरलीधरन की गेंदबाजी एक्शन पर 3 बार 1995, 1996 और 1999 में सवाल उठाए गए थे लेकिन बाद में उन्हें ICC द्वारा क्लीन चिट दे दी गई थी.

इसके अलावा पाकिस्तीनी तेज गेंदबाज शोएब अख्तर, शब्बीर अहमद, सईद अजमल, बांग्लादेशी गेंदबाज तस्कीन अहमद और अराफात सनी पर भी ICC की तरफ से बैन लगाया जा चुका है.

Related Posts