पांच साल पहले 4 पर कैच छूटा था, फिर 33 चौके और 9 छक्‍के लगा रोहित शर्मा बन गए ‘हिटमैन’

13 नवंबर, 2014 को रोहित शर्मा के बल्‍ले से 264 रन निकले. वे ओपनिंग करने आए थे और नाबाद लौटे. इस बीच रिकॉर्ड टूटते रहे, इतिहास बनता रहा.

कोलकाता के ईडन गार्डंस का मैदान. भारत और श्रीलंका के बीच सीरीज का चौथा वनडे. टीम इंडिया की तरफ से दो खिलाड़ी कमबैक कर रहे थे. रोहित शर्मा और रॉबिन उथप्‍पा. पहले बात उसकी जिसने उस रात रनों की बारिश की. 5 साल हो चुके हैं पर वैसा करिश्‍मा कोई दूसरा नहीं कर पाया. 13 नवंबर, 2014 को रोहित शर्मा (Rohit Sharma) के बल्‍ले से 264 रन निकले. वनडे क्रिकेट में किसी खिलाड़ी का बेस्‍ट स्‍कोर. रोहित ओपनिंग करने आए थे और नाबाद लौटे. इस बीच रिकॉर्ड टूटते रहे, इतिहास बनता रहा.

रोहित ने उस पारी में 33 चौके और 9 छक्‍के लगाए. 40 ओवर के बाद भारत का स्‍कोर 3 विकेट के नुकसान पर 275 रन था. अगले 10 ओवर में रोहित ने अकेले 110 रन कूट दिए. 50 ओवर में टीम इंडिया ने 5 विकेट के नुकसान पर 404 रन बना डाले थे. इस दौरान उनका साथ दिया रॉबिन उथप्‍पा ने. दोनों ने पांचवें विकेट के लिए 128 रन जोड़े. इनमें से सिर्फ 16 रन रॉबिन ने बनाए थे. वो हर गेंद पर स्‍ट्राइक प्रचंड फॉर्म में चल रहे रोहित को देते रहे. शर्मा जी के लड़के ने ईडन गार्डंस में मौजूद किसी भारतीय समर्थक को निराश नहीं किया.

श्रीलंका की पूरी टीम नहीं पार कर पाई Rohit Sharma के 264 का स्‍कोर

जवाब में श्रीलंका सिर्फ 251 पर ऑलआउट हो गई. पूरी टीम मिलकर भी रोहित के स्‍कोर से 13 रन पीछे रह गई. ये वनडे में रोहित शर्मा की दूसरी डबल सेंचुरी थी. वो 2013 में ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ बेंगलुरु में भी शतक लगा चुके थे. साल 2017 में उन्‍होंने फिर श्रीलंका के खिलाफ दोहरा शतक लगाया. ऐसा करते ही वह ODI में तीन डबल सेंचुरी लगाने वाले पहले और इकलौते खिलाड़ी बन गए.

सचिन तेंदुलकर के नाम वनडे क्रिकेट में पहली डबल सेंचुरी लगाने का रिकॉर्ड है. उन्‍होंने 2010 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ नाबाद 200 रन बनाए थे.

ये भी पढ़ें

‘अगली बार ध्यान रखूंगा कैमरा कहां लगा है’, रोहित शर्मा को क्‍यों कहनी पड़ी ये बात?