अपनी कप्तानी पर फिर बोले रोहित शर्मा, “मैं टीम में सबसे कम अहमियत वाला इंसान हूं”

रोहित शर्मा का मानना है कि IPL शुरू होने में अभी ठीक ठाक समय है. उन्हें उम्मीद है कि जल्दी ही जिम खुल जाएंगे और वो ट्रेनिंग सेशन कर सकेंगे. रोहित शर्मा इनडोर प्रैक्टिस के लिए MCA से भी संपर्क करने वाले हैं.
Rohit Sharma, अपनी कप्तानी पर फिर बोले रोहित शर्मा, “मैं टीम में सबसे कम अहमियत वाला इंसान हूं”

IPL के ऐलान के साथ ही जिन खिलाड़ियों को लेकर सबसे ज्यादा चर्चा हो रही है, रोहित शर्मा उनमें से एक हैं. रोहित शर्मा पर चर्चा की बड़ी वजह ये भी है कि वो IPL के इतिहास के सबसे ज्यादा कामयाब कप्तान हैं. रोहित शर्मा ने अब तक चार बार अपनी कप्तानी में मुंबई इंडियंस को खिताबी जीत दिलाई है. इसमें से भी दो फाइनल ऐसे हैं जो मुंबई इंडियंस ने सिर्फ 1 रन के अंतर से जीते हैं. ऐसे में रोहित शर्मा के संयम और संतुलन की काफी तारीफ हुई थी.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

हाल ही में रोहित शर्मा के साथी खिलाड़ी सुरेश रैना ने तो यहां तक कहा था कि रोहित शर्मा अगले महेंद्र सिंह धोनी हो सकते हैं. इस पर रोहित शर्मा ने कहा था कि धोनी और उनकी तुलना ठीक नहीं है. धोनी की जगह ही अलग है. अब रोहित शर्मा ने अपनी कप्तानी को लेकर एक और बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि- मुंबई इंडियंस की टीम में वो सबसे कम अहमियत वाले खिलाड़ी हैं.

कप्तानी को लेकर क्या है रोहित शर्मा की राय

रोहित शर्मा भारतीय टीम के उपकप्तान भी हैं. विराट कोहली की गैरमौजूदगी में वो टीम की कमान भी संभालते हैं. वनडे और टी-20 क्रिकेट में रोहित शर्मा की कप्तानी के रिकॉर्ड्स भी शानदार हैं. श्रीलंका में खेली गई निदहास ट्रॉफी में विराट कोहली की गैरमौजूदगी में रोहित शर्मा ने ही कप्तानी की थी. भारत ने वो टूर्नामेंट जीता था.

अपनी कप्तानी को लेकर रोहित शर्मा ने कहा, “मैं उस थ्योरी में भरोसा रखता हूं कि जब आप टीम के कप्तान हैं तो आप टीम के लिए सबसे कम अहमियत रखने वाले इंसान हैं. टीम के लिए बड़ी योजनाओं के मद्देनजर बाकी खिलाड़ी ज्यादा महत्वपूर्ण हो जाते हैं. अलग-अलग कप्तानों के लिए चीजें अलग-अलग तरह से काम करती हैं, लेकिन मेरे लिए ये तरीका ही काम करता है.”

भावनाओं को छिपाना सबसे मुश्किल काम है

मैदान में गुस्सा न दिखाने को लेकर धोनी से की गई तुलना पर रोहित शर्मा ने कहा कि- “मैदान में गुस्सा न दिखाना कोई जानबूझकर किया गया काम नहीं है. ये स्वाभाविक है अगर आपमें है तो आप किसी और की तरह व्यवहार नहीं करता चाहते. आप हमेशा अपनी तरह ही बनकर रहना चाहते हैं.” रोहित शर्मा का मानना है कि IPL शुरू होने में अभी ठीक ठाक समय है. उन्हें उम्मीद है कि जल्दी ही जिम खुल जाएंगे और वो ट्रेनिंग सेशन कर सकेंगे. रोहित शर्मा इनडोर प्रैक्टिस के लिए MCA से भी संपर्क करने वाले हैं.

Related Posts