सानिया ने जीता सबका दिल, Fed Cup Heart Award जीतने वाली पहली भारतीय बनीं

सानिया मिर्ज़ा (Sania Mirza) ने मां बनने के बाद हाल ही में टेनिस कोर्ट पर वापसी की थी. भारत को पहली बार फेड कप के प्लेऑफ (Fed Cup Playoff) में जगह दिलाने में सानिया मिर्ज़ा की अहम भूमिका रही.
Sania Fed Cup Heart Award, सानिया ने जीता सबका दिल, Fed Cup Heart Award जीतने वाली पहली भारतीय बनीं

भारत की स्टार टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्ज़ा ने एक बड़ी उपलब्धि हासिल की है. उन्होंने फेड कप हार्ट पुरस्कार जीत लिया है. ये पुरस्कार खेलों में किसी खिलाड़ी के समर्पण, प्रतिबद्धता या ‘कमिटमेंट’ के लिए दिया जाता है. एशिया ओशियाना क्षेत्र में इंडोनेशिया की प्रिस्का मेडलीन के साथ सानिया मिर्ज़ा को भी इस पुरस्कार के लिए नॉमिनेट किया गया था. इस पुरस्कार का फैसला ऑनलाइन वोटिंग से होना था.

8 मई तक चली वोटिंग कुल 16985 वोट पड़े. इसमें 10000 से ज़्यादा वोट सानिया मिर्ज़ा को मिले. इस जीत की इनामी राशि करीब 2000 डॉलर है, जो सानिया तेलंगाना मुख्यमंत्री राहत कोष को देंगी. उन्होंने इस अवॉर्ड को देश के नाम समर्पित किया.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

आपको बता दें कि सानिया मिर्ज़ा ने मां बनने के बाद हाल ही में टेनिस कोर्ट पर वापसी की थी. भारत को पहली बार फेड कप के प्लेऑफ में जगह दिलाने में सानिया मिर्ज़ा की अहम भूमिका रही. दिलचस्प बात ये कि इस दौरान उनका बेटा भी दर्शकों में मौजूद था.

जीत के साथ की थी सानिया ने वापसी

सानिया मिर्ज़ा ने इसी साल ऑस्ट्रेलिया में डब्लूटीए होबार्ट इंटरनेशनल ट्रॉफी का खिताब जीता था. उस वक्त भी उन्होंने कहा था कि लंबे अंतराल के बाद कोर्ट में इससे बेहतर वापसी के बारे में वो सोच भी नहीं सकती थी. बताते चलें कि कि सानिया मिर्ज़ा के लिए वापसी करना इतना आसान नहीं था. उन्होंने अपने बच्चे को जन्म देने के बाद खुद को फिट करने के लिए कड़ी मशक्कत की.

सानिया मिर्ज़ा सोशल मीडिया पर लगातार अपने वीडियो डालती रहती थीं, जिसमें वो फिटनेस एक्सरसाइज करती दिखती थीं. सानिया मिर्ज़ा ने सिर्फ 4 महीने में 26 किलो से ज़्यादा वजन कम किया था. इतनी मेहनत के बाद वो टेनिस कोर्ट में वापसी कर पाईं.

तमाम विवादों को पीछे छोड़ पाई कामयाबी की मंज़िल

ये वही सानिया मिर्ज़ा हैं जिनके खिलाफ एक वक्त पर फतवा जारी कर दिया गया था. सानिया अब भी उन दिनों को भूली नहीं हैं. अपनी किताब ‘एस अगेन्स्ट ऑड्स’ में उन्होंने इस पर एक पूरा चैप्टर लिखा. जिसमें वह सितंबर 2005 की उस घटना को याद करते हुए लिखती हैं कि वो अचानक रातों-रात विवादित हो गई थीं जब उनके खिलाफ इस बात के लिए फतवा जारी किया गया था कि टेनिस कोर्ट में स्कर्ट, हाफ पैंट या खुली बाजु वाली ड्रेस पहनकर लोगों के सामने उतरना इस्लाम के खिलाफ है. आज वही सानिया मिर्ज़ा तमाम बड़े मंचों पर भारत का नाम रोशन कर रही हैं.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts