9 महीने पहले अपने बिछाए जाल में अब खुद ही फंस गए संजय मांजरेकर

संजय मांजरेकर के कमेंटरी पैनल से बाहर होने के बाद चैन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) ने मजाकिया अंदाज में मांजेकर पर टिप्पणी की. चेन्नई ने ट्वीट करते हुए कहा कि अब टुकड़ों में (bits and pieces) ऑडियो फीड सुनने की जरूरत नहीं है.

क्रिकेट कमेंट्री के दौरान अक्सर खिलाड़ियों को लेकर टिप्पणी करने वाले पूर्व भारतीय क्रिकेटर संजय मांजरेकर (Sanjay Manjrekar) कमेंटरी पैनल से बाहर हो गए हैं. संजय मांजरेकर की आवाज IPL के दौरान भी सुनने के लिए नहीं मिलेगी. संजय मांजेकर को कमेंटरी पैनल से बाहर करने के पीछे की वजह बोर्ड का उनके काम को पसंद नहीं करना बताया जा रहा है. कमेंटरी पैनल से बाहर होने के बाद मांजरेकर लगातार ट्रोल हो रहे हैं.

चेन्नई सुपर किंग्स ने मांजेरकर पर ली चुटकी

संजय मांजरेकर के कमेंटरी पैनल से बाहर होने के बाद चैन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) ने मजाकिया अंदाज में मांजेकर पर टिप्पणी की. चेन्नई ने ट्वीट करते हुए कहा कि अब टुकड़ों में (bits and pieces) ऑडियो फीड सुनने की जरूरत नहीं है. आपको बता दें कि 2019 विश्व कप के दौरान संजय मांजरेकर ने भारतीय ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) पर विवादित टिप्पणी की थी.

उन्होंने जडेजा को टूकड़ों में प्रदर्शन करने वाला खिलाड़ी बताया था. जिसके बाद इस बयान ने विवाद का रूप ले लिया था. खुद रवींद्र जडेजा ने संजय मांजरेकर को जवाब देते हुए ट्वीट करते हुए लिखा था कि मैं आपसे दोगुने मैच खेल चुका हूं और अभी भी खेल रहा हूं. उन लोगों का सम्मान करना सीखें जिन्होंने अपने जीवन में कुछ हासिल किया हो. मैं आपकी काफी बेतुकी बातें सुन चुका हूं. जिसके बाद संजय मांजरेकर ट्विटर पर काफी ट्रोल भी हुए थे.

जिसके बाद संजय मांजरेकर को गलत साबित करते हुए जडेजा ने विश्व के सेमीफाइनल में दमदार प्रदर्शन किया था. रवींद्र जडेजा ने सेमीफाइनल मुकाबले में न्यूजीलैंड के खिलाफ 59 गेंद पर 4 चौके और 4 छक्के लगाते हुए ताबड़तोड़ 77 रन की शानदार पारी खेली थी. सेमीफाइनल मैच में जब एक ओर से विकेट गिर रहे थे जब जडेजा ही थे जो मोर्चा संभाले हुए भारत के स्कोर को आगे बढ़ा रहे थे. इस मैच में जडेजा ने ही भारत की ओर से सबसे ज्यादा रन बनाए थे. भारत सेमीफाइनल मैच हार गया था, लेकिन रवींद्र जडेजा ने दिल जरूर जीत लिए थे. इसके बाद संजय मांजरेकर की जमकर आलोचना भी हुई थी.

गुलाबी गेंद को लेकर भी उलझ गए थे मांजरेकर

इस विवाद के बाद भी संजय मांजरेकर कई बार अपने बयानों को लेकर विवादों में फंस चुके हैं. संजय मांजरेकर ने प्रसिद्ध क्रिकेट कमेंटेटर हर्षा भोगले (Harsha Bhogle) पर भी विवादित टिप्पणी की थी. हर्षा और संजय मांजरेकर के बीच गुलाबी गेंद (Pink Ball) को लेकर बहस हुई थी. हर्षा भोगले ने कहा था कि जब इस मैच का पोस्टमार्टम किया जाएगा तब गेंद की दृश्यता एक चीज होगी जिसके बारे में ध्यान देना होगा.

भोगले के इस सवाल पर मांजरेकर ने कहा कि मुझे ऐसा नहीं लगता. गेंद का दिखना कोई मसला नहीं है. साथ ही मांजरेकर ने अपने क्रिकेट खेलने के अनुभव को गिनाते हुए कहा, ‘तुम्हे पूछना होगाहमें नहीं. हर्षा केवल आपको ही जानने की जरूरत हैजिसने क्रिकेट खेला है उसे नहीं. इस बहस के बाद भी संजय मांजरेकर को लेकर लोगों ने अपना आक्रोश जाहिर किया था. अब संजय मांजरेकर को जब कमेंटरी पैनल से बाहर किया गया है. तो सिर्फ चैन्नई सुपर किंग्स ही नहीं बल्कि रवींद्र जडेजा के फैंस भी मांजरेकर का मजाक उड़ा रहे हैं.

Related Posts