हिमा दास का ‘स्वर्णिम चौका’, ढिंग एक्सप्रेस ने 15 दिनों में जीता चौथा गोल्ड मेडल

हिमा ने 2 जुलाई को इस सीजन का यूरोप में पहला गोल्ड मेडल जीता था.

नई दिल्ली. भारत की युवा स्प्रिंटर हिमा दास ने अपने शानदार प्रदर्शन को जारी रखते हुए 15 दिनों के भीतर चौथा स्वर्ण पदक जीत लिया है. उन्होंने चेक गणराज्य में हुए टाबोर एथलेटिक्स टूर्नामेंट में 200 मीटर स्पर्धा का स्वर्ण जीता. ढिंग एक्सप्रेस के नाम से जानी जाने वाली असम की हिमा ने बुधवार को हुई रेस को 23.25 सेकेंड में पूरा करके सोना जीता. उनकी हमवतन वी.के विसमाया 23.43 सेकेंड का समय निकालते हुए दूसरे पायदान पर रही. यह इस सीजन का उनका सबसे बेहतरीन प्रदर्शन है.

इस रेस में हिमा को अधिक चुनौती नहीं मिली. रेस में हिस्सा लेने वाले ज्यादातर धावक चेक रिपब्लिक के क्लब के थे. हालांकि, वह अपने व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ 23.10 के करीब पहुंच रही है.

जुलाई दो के बाद से हिमा का यूरोप में हुए टूर्नामेंट में यह चौथा स्वर्ण है. जीत के बाद उन्होंने ट्वीट किया, “आज 200 मीटर में फिर एक स्वर्ण जीता और टाबोर में अपना समय बेहतर करके 23.25 सेकेंड किया.” उन्होंने दो जुलाई को पोलैंड में हुई पहली रेस को 23.65 सेकेंड में जीता था.

पुरुष वर्ग में राष्ट्रीय रिकॉर्ड होल्डर मोहम्मद अनस ने 400 मीटर की स्पर्धा में 45.40 सेकेंड का समय निकालते हुए स्वर्ण जीता. अनस ने 13 जुलाई को इसी स्पर्धा में 45.21 सेकेंड के समय के साथ सोना जीता था.

ये भी पढ़ें: भारत की ‘गोल्डन गर्ल’ हिमा दास ने देशवासियों से की भावुक अपील

ये भी पढ़ें: दुती चंद ने यूनिवर्सिटी गेम्स में जीता गोल्‍ड मेडल, कोई भारतीय फाइनल तक भी नहीं पहुंचा था