इन पांच पारियों के दम पर क्रिकेट फैन्स के दिलों में राज करते हैं युवराज

युवराज सिंह ने अपने क्रिकेट करियर में कई शानदार पारियां खेली हैं. युवराज की पारियों के दम पर भारत ने कई मुश्किल मुकाबले जीते हैं.

नई दिल्ली: सीमित ओवरों के क्रिकेट में भारत के बेहतरीन हरफनमौला खिलाड़ियों में शुमार युवराज सिंह ने सोमवार को अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी है. युवराज ने मुंबई में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा कि वह काफी समय से रिटायरमेंट के बारे में सोच रहे थे और अब उनका प्लान आईसीसी द्वारा मान्यता प्राप्त टी-20 टूर्नामेंट्स में खेलने का है.

युवराज ने अपना अंतिम टेस्ट साल 2012 में खेला था. सीमित ओवरों के क्रिकेट में वह अंतिम बार 2017 में दिखे थे. युवराज ने साल 2000 में पहला वनडे, 2003 में पहला टेस्ट और 2007 में पहला टी-20 मैच खेला था.

युवराज सिंह ने अपने क्रिकेट करियर में कई शानदार पारियां खेली हैं. युवराज की पारियों के दम पर भारत ने कई मुश्किल मुकाबले जीते हैं. चलिए युवराज के अंतराष्ट्रीय क्रिकेट करियर की पांच बेस्ट पारियों के बारे में जानते हैं.

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 84 रन
युवराज सिंह को साल 2000 में ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ बल्लेबाजी करने का मौका मिला था. युवराज के क्रीज पर आने से पहले टीम इंडिया 90 रन पर तीन विकेट गवां चुकी थी. युवराज ने इस मैच में 80 गेंदों में 84 रन बनाए. युवी की यह पारी बहुत खास मानी जाती है क्‍योंकि उन्‍होंने ऑस्‍ट्रेलिया की दमदार गेंदबाजी के खिलाफ ये अहम रन बनाए थे.

धमाकेदार 69 रनों की पारी
भारत ने 2002 नेटवेस्‍ट सीरीज फाइनल में इंग्‍लैंड को हराकर इतिहास रचा था. भारत ने इंग्‍लैंड द्वारा मिले 325 रन के लक्ष्‍य को 8 विकेट खोकर हासिल कर लिया था. इस जीत में युवराज सिंह की पारी ने अहम भूमिका निभाई थी. भारत एक समय 146 रन पर पांच विकेट गंवा चुका था. युवी ने 69 रनों की शानदार पारी खेली थी.

जब लगाए 6 गेदों पर 6 छक्के
युवराज सिंह ने टी20 वर्ल्ड कप 2007 में गजब की पारी खेली थी. युवराज ने इस मैच में स्‍टुअर्ट ब्रॉड के ओवर में लगातार 6 छक्‍के जड़े थे. यह उपलब्धि हासिल करने वाले वो पहले खिलाड़ी बन गए थे. साथ ही युवी ने इसी मैच में सबसे तेज अर्धशतक जमाने का रिकॉर्ड भी बनाया था.

वर्ल्ड कप में 70 रनों की अहम पारी
युवराज सिंह ने टी20 वर्ल्ड कप में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 70 रनों की धमाकेदार पारी खेली थी. इस दौरान युवी ने 30 गेंदों पर पांच छक्के और पांच चौके लगाए थे. ऑस्ट्रेलिया यह मुकाबला 15 रनों से हार गया था.

इस पारी का मनाया था खास जश्न
वर्ल्ड कप 2011 में युवराज सिंह ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ यादगार पारी खेली थी. युवी ने 65 गेंदों पर नाबाद 57 रन बनाए थे. ये वही दौर था जब युवराज कैंसर से जूझ रहे थे. मैच जीतने के बाद युवी काफी भावुक हो गए थे. उन्होंने विजयी चौका लगाने के बाद घुटनों के बल पिच पर बैठकर जीत का जश्‍न मनाया था.

चंडीगढ़ में साल 1981 में जन्में युवराज ने भारत के लिए 40 टेस्ट, 304 वनडे और 58 टी-20 मैच खेले. टेस्ट में युवराज ने तीन शतकों और 11 अर्धशतकों की मदद से कुल 1900 रन बनाए जबकि वनडे में उन्होंने 14 शतकों और 52 अर्धशतकों की मदद से 8701 रन जुटाए.

इसी तरह टी-20 मैचों में युवराज ने कुल 1177 रन बनाए. इसमें आठ अर्धशतक शामिल हैं. युवराज ने टेस्ट मैचों में 9, वनडे में 111 और टी-20 मैचो में 28 विकेट भी लिए हैं. युवराज ने 2008 के बाद कुल 231 टी-20 मैच खेले हैं और 4857 रन बनाए हैं. उन्होंने टी-20 मैचों में 80 विकेट भी लिए हैं.

ये भी पढे़ं-

इसी मैच ने तय कर दी थी स्टार बल्लेबाज युवराज सिंह की रिटायरमेंट

युवराज सिंह ने किया रिटायरमेंट का ऐलान, कौन भूल पाएगा उनकी यह पारी?

जडेजा ने मैक्सवेल का लपका कमाल का कैच, मुकाबले का टर्निंग प्वाइंट रहा ये विकेट