60 दिन से ज्यादा के बाद मिली थोड़ी आजादी तो खुशी में क्या बोले नीरज चोपड़ा?

नीरज चोपड़ा (Neeraj Chopra) टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई कर चुके हैं. 2018 में उन्होंने कॉमनवेल्थ खेलों और एशियन गेम्स में जेवलिन थ्रो में भारत के लिए स्वर्ण पदक जीता था.
Athlete Neeraj Chopra, 60 दिन से ज्यादा के बाद मिली थोड़ी आजादी तो खुशी में क्या बोले नीरज चोपड़ा?

नीरज चोपड़ा (Neeraj Chopra) 18 मार्च के बाद से पटियाला ने NIS में थे. लॉकडाउन (Lockdown) के चलते तमाम बंदिशें थीं. खिलाड़ियों के आपस में मिलने जुलने पर भी प्रतिबंध था. सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) के नियमों का पालन करना था. जिम नहीं जा सकते थे. यहां तक की संक्रमण के डर से खुले में भी अभ्यास करना मना था. NIS ने इन नियमों को सुनिश्चित करने के लिए अधिकारियों की एक टीम तक बना दी थी. जो एथलीटों पर कड़ी नजर रखती थी. जिससे कोई भी एथलीट नियमों को तोड़ न पाए. ऐसे कठिन वक्त से अब थोड़ा राहत मिली है. NIS पटियाला में एथलीटों को प्रशिक्षण के शुरूआती दौर की इजाजत मिल गई है. इसी बात से खुश होकर नीरज चोपड़ा ने कहा- खुश हूं, कम से कम कुछ तो शुरू हो रहा है, भले ही ये धीमी शुरुआत है.’

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

नीरज चोपड़ा हैं ओलंपिक पदक के दावेदार

नीरज चोपड़ा टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) के लिए क्वालीफाई कर चुके हैं. 2018 में उन्होंने कॉमनवेल्थ खेलों और एशियन गेम्स में जेवलिन थ्रो में भारत के लिए स्वर्ण पदक (Gold Meadl) जीता था. 2016 में विश्व अंडर-20 में वो विश्व रिकॉर्ड बना चुके हैं. 2018 एशियन गेम्स में वो भारतीय दल के ‘फ्लैग-बीयरर’ भी थे. टोक्यो ओलंपिक उनके करियर का पहला ओलंपिक है. बताते चलें कि टोक्यो ओलंपिक का आयोजन इसी साल जुलाई के महीने में होना था लेकिन कोरोना की वजह से अब इंटरनेशनल ओलंपिक कमेटी (International Olympic Committee) ने टोक्यो ओलंपिक को एक साल के लिए टाल दिया है. टोक्यो ओलंपिक अब 2021 में 23 जुलाई से खेले जाएंगे.

शुरूआती दौर में फिटनेस पर रहेगा जोर

खिलाड़ियों को ये ताकीद दी गई है कि ट्रेनिंग के शुरूआती दौर में वो सिर्फ अपनी फिटनेस पर फोकस करेंगे. शरीर पर ट्रेनिंग का बोझ धीरे धीरे बढ़ाने की बात कही गई है. ऐसा इसलिए क्योंकि लंबे अंतराल के बाद अचानक फुल ट्रेनिंग करने पर चोट लगने का खतरा भी है. नीरज चोपड़ा ने भी यही कहाकि वो फिलहाल एक स्तर तक की फिटनेस को पाने के बाद ही भाला फेंकना शुरू करेंगे. आपको बता दें कि स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने एथलीटों के साथ विचार विमर्श के बाद बेसिक ट्रेनिंग को बहाल करने का फैसला किया था. NIS के बेंगलुरू सेंटर पर भी इसी तर्ज पर ट्रेनिंग शुरू होगी.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

Related Posts