“कप्‍तानी क्‍या है, नाम के आगे C लग जाता है बस”

विराट कोहली ने कहा, "ईमानदारी से कहूं तो कप्‍तानी आपके नाम के आगे सिर्फ एक C लगना भर है. मैटर तो टीम की कोशिशें ही करती हैं."

विराट कोहली अब भारत के सफलतम टेस्‍ट कप्‍तान हैं. बतौर कप्‍तान यह उपलब्धि हासिल करना कैसा लगता है? मैच प्रेजेंटेशन में कोहली ने इसपर कहा, “ईमानदारी से कहूं तो कप्‍तानी आपके नाम के आगे सिर्फ एक C लगना भर है. मैटर तो टीम की कोशिशें ही करती हैं.”

कोहली ने आगे कहा, “जैसी क्‍वालिटी टीम हमारी है, ये (उपलब्धि) उसका बाइ-प्रोडक्‍ट है. अगर हमारे पास ये गेंदबाज नहीं होते तो मुझे नहीं लगता है कि ऐसे नतीजे आते.”

कप्‍तानी को कितना क्रेडिट के सवाल पर उन्‍होंने कहा, “आप जितने ज्‍यादा चाहो, उतने रन बना सकते हो मगर इन लोगों को देखिए… जो पूरा दम लगाकर दौड़ते हैं…(मोहम्‍मद) शमी का आज का स्‍पेल देखिए. छोटे निग्‍गल के बावजूद (जसप्रीत) बुमराह का बॉलिंग करना… इशांत का दम लगाना… जडेजा का लंबा स्‍पेल डालना… मुझे नहीं लगता कि इनके बिना यह संभव होता. इसलिए मुझे लगता है कि क्रेडिट पूरी टीम को जाना चाहिए.”

कप्‍तान ने मैन ऑफ द मैच हनुमा विहारी की जमकर तारीफ की. विहारी ने दूसरे टेस्‍ट में 111 और 53* रनों की पारियां खेलीं. कोहली ने कहा, “पिच को देखते हुए यह एक टॉप क्‍लास पारी थी. वह (विहारी) ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्‍हें अपने गेम का पता है और ये उनके खेलते समय दिखता है. वह आत्‍मविश्‍वास से भरे दिखते हैं और उनके बल्‍लेबाजी करते समय ड्रेसिंग रूप शांत रहता है. वह हमेशा अपनी गलतियों को मानकर उनमें सुधार करते हैं. दिल लगातार खेलते हैं.”

ये भी पढ़ें

टेस्‍ट में बेस्‍ट हैं कप्‍तान विराट कोहली, बना डाला नया रिकॉर्ड

हैट्रिक बॉल पर कोहली ने चिल्लाकर कही थी ये बात, तब मिला तीसरा विकेट, खुद बुमराह ने किया खुलासा