क्या टेस्ट में विराट देंगे रोहित को खेलने का मौका?

विश्व कप में रोहित शर्मा ने 9 मैच में 81.00 की बेहतरीन औसत से 648 रन जोड़े. इसके साथ ही वो विश्व कप 2019 में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज भी बन गए.

वनडे और टी-20 फॉर्मेट में सबसे खतरनाक खिलाड़ी का तमगा हासिल कर चुके रोहित शर्मा खुद को रेड बॉल क्रिकेट में स्थापित करने का सपना काफी वक्त से देख रहे हैं. ऐसा नहीं कि उन्हें इसका मौका नहीं मिला. हां, ये जरूर हुआ कि उन मौकों को वो भुना नहीं पाए. नतीजा ये हुआ कि 12 साल के अंतर्राष्ट्रीय करियर में रोहित शर्मा के खाते में कुल 27 टेस्ट मैच हैं. टेस्ट टीम से अंदर-बाहर होने का अनुभव रोहित शर्मा के लिए नया नहीं है.

एक बार फिर हालात ऐसे बन रहे हैं कि टीम इंडिया उन्हें खुद को टेस्ट क्रिकेट में स्थापित करने का मौका देते हुए दिख रही है. विंडीज दौरे पर फ्लॉप हुए ओपनिंग बल्लेबाज केएल राहुल के विकल्प के तौर पर हिटमैन रोहित शर्मा को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ आजमाया जा सकता है. BCCI के मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद का कहा कि वेस्टइंडीज दौरे के बाद चयन समिति की कोई बैठक नहीं हुई है. हम टेस्ट मैच में रोहित शर्मा के नाम पर बतौर ओपनर विचार करेंगे.

हाल ही में रोहित शर्मा ने विश्व कप में करिश्माई प्रदर्शन किया था. विश्व कप जैसे बड़े टूर्नामेंट में इस तरह का प्रदर्शन करना उनकी शानदार फॉर्म का परिचय है. विश्व कप में रोहित शर्मा ने 9 मैच में 81.00 की बेहतरीन औसत से 648 रन जोड़े. जिसमें 5 शतक और 1 अर्धशतक शामिल था. इसके साथ ही वो विश्व कप 2019 में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज भी बन गए. वर्ल्ड कप में रनों की बरसात करने के बाद रोहित शर्मा को वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट टीम में शामिल तो किया गया. लेकिन उन्हें प्लेइंग 11 में जगह नहीं दी गई. कप्तान विराट कोहली ने ओपनर के तौर पर केएल राहुल को तरजीह दी. हालांकि केएल राहुल अपनी उपयोगिता साबित करने में नाकाम रहे. केएल राहुल ने कैरेबियाई टीम के खिलाफ 2 टेस्ट की 4 पारियों में कुल 101 रन ही बनाए जिसमें उनका औसत 25.25 का रहा. इस दौरान उनके बल्ले से एक हाफ सेंचुरी भी देखने को नहीं मिली.

इसके बाद पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने सेलेक्शन कमेटी और टीम मैनेजमेंट पर सवाल खड़े करते हुए रोहित शर्मा को टेस्ट टीम में खिलाने की पैरवी की थी. अब चीफ सेलेक्टर एमएसके भी कुछ ऐसी ही बात कर रहे हैं कि साउथ अफ्रीका के खिलाफ 2 अक्टूबर से शुरू हो रही 3 टेस्ट मैचों की सीरीज में हिटमैन रोहित शर्मा को सफेद जर्सी पहने मैदान में देखा जा सकता है.

रोहित शर्मा के टेस्ट करियर कि बात करें तो उन्होंने कुल 27 टेस्ट मैच खेले हैं जिसमें उन्होंने 39.62 की औसत से 1585 रन बनाए जिसमें 3 सेंचुरी और 10 हॉफ सेंचुरी शामिल हैं. रोहित शर्मा ने आखिरी टेस्ट मैच 2018 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एडिलेड में खेला था. जिसमें उन्होंने 68 रन बनाए थे. फिर वो टीम से ड्रॉप हो गए थे.

बात सिर्फ यहां फंसी हुई है कि क्या बतौर कप्तान विराट कोहली अपने केएल राहुल प्रेम को छोड़ने को तैयार होंगे? क्योंकि केएल राहुल विराट कोहली के पसंदीदा खिलाड़ियों में शुमार हैं. अगर विराट कोहली उन्हें ड्रॉप किए जाने के फैसले पर हरी झंडी दिखाते हैं तो अगला नंबर ऋषभ पंत का होगा जो बिना किसी परफॉर्मेंस के टीम में बने हुए हैं.

ये भी पढ़ें- ISRO चीफ के. सिवन ने कही ऐसी बात, जीत लिया सबका दिल