इंग्लैंड के खिलाफ हार के बाद पाकिस्तान टीम पर हमले तेज, अकरम और इंजमाम ने उठाए गंभीर सवाल

इंग्लैंड ने पाकिस्तान को दूसरे टीृ20 मुकाबले में पांच गेंद रहते हुए ही पांच विकेट के अंतर से हरा दिया. इस हार के बाद पाकिस्तान के पूर्व दिग्गज खिलाड़ी वसीम अकरम और इंजमाम उल हक ने टीम के हेड कोच मिस्बाह उल हक पर निशाना साधा है.

इंग्लैंड के दौरे पर पाकिस्तान का हार का सफर जारी है. टेस्ट सीरीज में हार के बाद टी-20 में भी पाकिस्तान की टीम को शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा. पहला टी-20 मैच बारिश में धुल गया था. जबकि दूसरे टी-20 में पाकिस्तान की टीम 195 रनों का बड़ा लक्ष्य भी ‘डिफेंड’ नहीं कर पाई.

इंग्लैंड ने पाकिस्तान को पांच गेंद रहते हुए ही पांच विकेट के अंतर से हरा दिया. इस हार के बाद पाकिस्तान के पूर्व दिग्गज खिलाड़ी वसीम अकरम और इंजमाम उल हक ने टीम के हेड कोच मिस्बाह उल हक पर निशाना साधा है. इन दोनों दिग्गज खिलाड़ियों ने कहा है कि मिस्बाह उल हक को कम से कम सकारात्मक तो दिखना चाहिए.

सर पर हाथ रखकर बैठे दिखे थे मिस्बाह

मिस्बाह उल हक पाकिस्तान के हेड कोच और चीफ सिलेक्टर हैं. इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टी-20 मैच के दौरान कई बार कैमरे पर वो नजर आए. एक बार तो वो टीम के खराब प्रदर्शन के चलते अपना सिर पकड़कर बैठे हुए दिखे. अकरम ने कहा कि किसी भी कोच के लिए जरूरी होता है कि हर परिस्थिति में कम से कम सकारात्मक नजर आए. लेकिन मिस्बाह के साथ ऐसा नहीं है.

अकरम ने कहा, “सिर पकड़कर बैठना किसी भी कोच के लिए अच्छा संकेत नहीं है. मान लिया कि गेंदबाजों की पिटाई हो रही है, लेकिन किसी भी कोच के लिए बॉडी लैंग्वेज बहुत जरूरी है. इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि मैच के हालात कैसे हैं. कोच को सकारात्मक रहना चाहिए. कम से कम सकारात्मक दिखना चाहिए.”

इंजमाम ने भी मिस्बाह पर किया वार

इस हार पर पाकिस्तान के पूर्व कप्तान और दिग्गज बल्लेबाज इंजमाम उल हक भी खफा हैं. इंजमाम ने कहा कि मिस्बाह जब कप्तान थे तो उस वक्त के कोच मिकी ऑर्थर भी ऐसा ही किया करते थे. इंजमाम ने कहा, “मैच के पांचवे ओवर में मिस्बाह उल हक सिर पकड़ कर बैठे हुए थे. ऐसी बात से गलत संकेत जाता है. अगर आप मैच के दौरान इस तरह का बर्ताव करते हैं तो इससे टीम में अच्छा असर नहीं जाता.”

उन्होंने आगे कहा, “मिकी ऑर्थर भी ऐसा ही करते थे. इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि मैच में क्या हो रहा है ड्रेसिंग रूम से सकारात्मक बातें ही बाहर आनी चाहिए.” बता दें कि 195 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए इंग्लैंड के कप्तान इयॉन मार्गन ने 33 गेंद पर 66 रन और डेविड मलान ने 36 गेंद पर 54 रन ठोककर इंग्लैंड को जीत दिलाई थी. पाकिस्तान के 4 गेंदबाजों ने मैच में 10 से ज्यादा की इकॉनमी से रन दिए.

Related Posts