रांची टेस्ट में विराट की किस रणनीति से मिली टीम इंडिया को ऐतिहासिक जीत?

इस ऐतिहासिल जीत के साथ वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप की प्वाइंट्स टैली में टीम इंडिया के 240 अंक हो गए हैं. दूसरे नंबर पर मौजूद न्यूजीलैंड उनसे 180 अंक पीछे हैं.

टीम इंडिया ने रांची टेस्ट में पारी और 202 रन से जीत हासिल कर दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 3-0 से टेस्ट सीरीज में क्लीन स्वीप कर दिया. इस ऐतिहासिल जीत के साथ वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप की प्वाइंट्स टैली में टीम इंडिया के 240 अंक हो गए हैं. दूसरे नंबर पर मौजूद न्यूजीलैंड उनसे 180 अंक पीछे हैं.

दुनिया की बाकी सभी टीमों के अंक मिलाकर कुल 232 प्वाइंट हैं. टेस्ट चैम्पियनशिप में सिर्फ टीम इंडिया ही नहीं बल्कि भारतीय खिलाड़ी भी छाए हुए हैं. बल्लेबाजों की लिस्ट में टॉप 4 में से 3 बल्लेबाज भारतीय हैं. रोहित शर्मा, अजिंक्य रहाणे और विराट कोहली साढ़े चार सौ से ज्यादा बना चुके हैं. गेंदबाजी के मामले में मोहम्मद शमी टॉप तीन गेंदबाजों में शुमार हैं.

पहली बार द. अफ्रीका का क्लीन स्वीप
क्रिकेट के इतिहास में पहली बार टीम इंडिया ने दक्षिण अफ्रीका का क्लीन स्वीप कर दिया और 3 मैच की टेस्ट सीरीज पर 3-0 से कब्जा किया. रांची टेस्ट में पारी और 202 रन से जीत. पुणे टेस्ट में पारी और 137 रन से जीत और विशाखापत्तनम टेस्ट में 203 रन से शानदार जीत. हर मैच के साथ टीम इंडिया की जीत और बड़ी होती चली गई.

टीम इंडिया ने विशाखापत्तनम की पहली पारी को छोड़कर किसी भी पारी में दक्षिण अफ्रीका को 200 रनों के आंकड़े तक भी पहुंचने नहीं दिया. टेस्ट सीरीज की 6 में से 5 पारियों में दक्षिण अफ्रीका 70 ओवर भी टीम इंडिया के सामने टिक नहीं सकी. गेंदबाजों ने हर मैच 20 विकेट अपने नाम किए.

वहीं भारतीय टीम के बल्लेबाजों ने हर मैच में रन बरसाए. पहले मैच की दो पारियों में 800 से ज्यादा रन. पुणे टेस्ट की एक पारी में 601 रन और रांची में तो 497 रन भी दक्षिण अफ्रीका के लिए काफी थे. किसी भी टेस्ट मैच में टीम इंडिया ऑलआउट नहीं हुई. टेस्ट सीरीज में भारत के तीन बल्लेबाज रोहित शर्मा, मयंक अग्रवाल और विराट कोहली ने दोहरा शतक लगाया. इससे पहले किसी भी सीरीज में ऐसा प्रदर्शन नहीं हुआ था.

आंकड़ों के लिहाज से ये सीरीज विराट के लिए भी सबसे कामयाब सीरीज में से एक है. इस सीरीज में विराट कोहली सबसे ज्यादा फॉलोऑन देने वाले भारतीय कप्तान बने. विराट की कप्तानी में टीम इंडिया ने 8वीं बार विरोधी टीम को फॉलोऑन दिया. इससे पहले मोहम्मद अजहरुद्दीन ने सात बार फॉलोऑन दिया था. वहीं पारी से जीत के मामले में विराट ने धोनी की बराबरी की और 9वीं जीत हासिल की.

लगातार 11 टेस्ट सीरीज में जीत
घरेलू मैदान पर टीम इंडिया ने लगातार 11 टेस्ट सीरीज अपने नाम की. इसके साथ ही टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया के रिकॉर्ड को भी तोड़ दिया. ऑस्ट्रेलिया ने दो बार घरेलू मैदान पर लगातार 10 टेस्ट सीरीज अपने नाम की थी. ये आंकड़े बताते हैं कि किस कदर टीम इंडिया इस वक्त वर्ल्ड क्रिकेट में अपना दबदबा बनाए हुए है.

विराट चाहते हैं कि टीम इंडिया का वैसा ही दबदबा हो जैसा कभी वेस्टइंडीज और ऑस्ट्रेलिया की टीम का था और अपने इस पक्के इरादे में टीम इंडिया कामयाब होती नजर आ रही है.