पूर्व कप्तान यूनुस खान का बड़ा खुलासा, बोले- पाकिस्तान में सच बोलने पर पागल करार दिया जाता है

यूनुस खान (Younis Khan) ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) की पोल खोल कर रख दी है. उन्होंने बताया कि आखिर क्यूं वो पाकिस्तान टीम (Pakistan Team) की कप्तानी छोड़ने पर मजबूर हो गए थे.

पाकिस्तान (Pakistan) को टी20 विश्व कप (T20 World Cup) जिताने वाले पूर्व कप्तान यूनुस खान (Younis Khan) ने एक बड़ा खुलासा किया है. या फिर यूं कहें कि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) की पोल खोल कर रख दी है तो गलत नहीं होगा. उन्होंने बताया कि आखिर क्यूं वो पाकिस्तान टीम की कप्तानी छोड़ने पर मजबूर हो गए थे. यूनुस खान ने कहा है कि पाकिस्तान में आप अगर सच बोलते हैं, तो आपको पागल करार दिया जाता है. यूनुस खान से पहले भी कई ऐसे खिलाड़ी रहे हैं जो पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड और ड्रेसिंग रूम में कई खिलाड़ियों के बर्ताव पर सवाल उठा चुके हैं.

क्यों छोड़ी थी यूनुस खान ने कप्तानी?

पाकिस्तान टीम ने आज तक दो विश्व कप जीते हैं. पहला 1992 में इमरान खान (Imran Khan) की कप्तानी में 50 ओवर का विश्व कप और दूसरा यूनुस खान की कप्तानी में 2009 में टी20 विश्व कप. इमरान खान आज पाकिस्तान के प्रधानमंत्री हैं. दूसरी ओर यूनुस खान हैं, जो आज कहीं किसी क्रिकेट पद पर भी नहीं हैं. यूनुस खान ने बताया कि आखिर टी20 विश्व कप जीतने के करीब 6 महीने बाद ही उन्हें कप्तानी क्यों छोड़नी पड़ी थी. उन्होंने कहा कि आप अक्सर जीवन में एक ऐसी स्थिति का सामना करते हैं जहां अगर आप सच बोलते हैं, तो आपको पागल समझा जाने लगता है. मेरी गलती बस इतनी थी कि मैं खिलाड़ियों के उस समूह पर उंगली उठा रहा था, जो देश के लिए मेहनत नहीं कर रहे थे.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

यूनुस खान ने कहा कि ईमानदारी की वजह से उनकी कप्तानी गई. कुछ खिलाड़ियों का एक समूह था, जो कप्तान के लिए प्रतिबद्ध नहीं था, क्योंकि जैसा वे चाहते थे, मैं वैसा कप्तान नहीं था. खिलाड़ियों को हालांकि बाद में पछतावा हुआ और हम उसके बाद लंबे समय तक टीम के साथियों के लिए खेले. मुझे पता था कि मैंने कुछ गलत नहीं किया है.

यूनुस खान का क्रिकेट करियर

यूनुस खान ने 20 साल पहले यानी साल 2000 में अपने इंटरेनशनल क्रिकेट करियर का आगाज किया था. यूनुस एक शानदार मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज माने जाते थे. उन्होंने 118 टेस्ट मैच (Test Match) में 52.05 की औसत से 10099 रन बनाए थे. इसमें 34 शतक और 33 अर्धशतक समेत ट्रिपल सेंचुरी भी शामिल है. वनडे क्रिकेट (ODI Cricket) में यूनुस ने 268 मैच में 31.24 की औसत से 7249 रन बनाए. इस दौरान उनके बल्ले से सात शतक और 48 अर्धशतक निकले थे. वहीं यूनुस खान ने 25 टी20 मैच में 22.10 की औसत से 442 रन जोड़े थे.

42 साल के यूनुस ने पाकिस्तान के उन खिलाड़ियों को अपनी कप्तानी छोड़ने का जिम्मेदार ठहराया है. जो उनके सच बोलने पर उन्हें पागल कहते थे. यूनुस चाहते थे कि खिलाड़ी अपनी फॉर्म और फिटनेस पर ध्यान दें, लेकिन उनकी बात को उनके साथी खिलाड़ी नजरअंदाज करते थे.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts