Bihar Elections 2020: पांच लाख कोरोना किट बनाने का लक्ष्य, 500 महिलाओं ने उठाया बीड़ा

कोरोनाकाल के बीच हो रहे बिहार चुनाव (Bihar election 2020) में कोविड-19 के सभी प्रोटोकॉल (Covid-19 Protocol) का पालन अच्छी तरह से हो, इसके लिए मातदाताओं (Voters), मतदान कर्मियों (Polling Personnel)और सुरक्षा कर्मचारियों (Security Staff) के लिए 5 लाख कोविड किटों का निर्माण किया जा रहा है.

Bihar Elections 2020: पांच लाख कोरोना किट बनाने का लक्ष्य, 500 महिलाओं ने उठाया बीड़ा

पटना (Patna) का ज्ञान भवन हॉल (Gyan Bhawan Hall) आमतौर पर प्रदर्शनियों और सम्मेलनों के लिए इस्तेमाल किया जाता है, लेकिन इन दिनों बिहार चुनाव के चलते इसका इस्तेमाल महिलाओं द्वारा कोविड किट (Covid-19 Kit) बनाने के लिए किया जा रहा है. बिहार चुनाव (Bihar election 2020) में अब कुछ ही दिन शेष रह गए हैं. कोरोनाकाल के बीच हो रहे बिहार चुनाव में कोविड-19 के सभी प्रोटोकॉल (Covid-19 Protocol) का पालन अच्छी तरह से हो, इसके लिए मातदाताओं (Voters), मतदान कर्मियों (Polling Personnel)और सुरक्षा कर्मचारियों (Security Staff) के लिए 5 लाख कोविड किटों का निर्माण किया जा रहा है.

बिहार मेडिकल सर्विसेज एंड इंफ्रास्ट्रक्चर कॉरपोरेशन लिमिटेड (BMSICL) के महाप्रबंधक सुधीर कुमार (Sudhir Kumar) ने बताया, ज्ञान भवन हॉल में 500 महिला वॉलन्टियर्स (जिनमें एनजीओ कर्मी, ‘आशा’ के कार्यकर्ता और मिड-डे मील स्टाफ शामिल हैं) कोविड किट बनाने के लिए जुटती हैं, किट बनाने के लिए महिलाओं की 12-12 घंटे की दो शिफ्ट लगती है, पहली शिफ्ट, सुबह 8 बजे से रात 8 बजे तक लगती है, जिसमें तकरीबन 300 महिलाएं कोविड किट बनाने का काम करती हैं, वहीं दूसरी शिफ्ट रात 8 बजे से सुबह 8 बजे तक लगती है, जिसमे 200 महिलाएं कोविड किट तैयार करने का काम करती हैं’. कुमार ने बताया, ‘प्रत्येक महिला को रोजाना 220 रुपये मिलते हैं, इसी के साथ उन्हें भोजन भी उपलब्ध कराया जा रहा है और घर से आने-जाने के लिए सुविधाएं भी दी जा रही हैं. कुमार ने बताया, ‘पहले दिन, हमने 30,000 किट तैयार किए थे, दूसरे दिन 40,000 और तीसरे करीब 60,000 के कोविड किट हमने तैयार किए थे’. कुमार आगे कहते हैं, ‘हमें कुल मिलाकर 5 लाख किट तैयार करने है’.

ये भी पढ़ें: इंदौर में ऑनलाइन सट्टेबाजी का खुलासा, हिरासत में 8 लोग-1 करोड़ 31 लाख नगद बरामद

बता दें कि बिहार में अब भी लगभग 600 कंटेनमेंट जोन (Containment Zones) हैं और 11,000 से अधिक एक्टिव (Active Cases) मामले हैं, जिनमें से 9,000 से अधिक कोविड-19 के मरीज होम क्वारंटाइन हैं. मतदान को सुरक्षित रखने के लिए, स्वास्थ्य विभाग सभी कंटेनमेंट जोन में 100 प्रतिशत कोरोना टेस्टिंग की योजना बना रहा है. मतदान के दिन से तीन दिन पहले यानी 28 अक्टूबर से शुरू होने वाले चुनावों के लिए 23 से 26 अक्टूबर के बीच घर-घर जाकर लोगों का कोरोना टेस्ट किया जाएगा’

चुनाव के लिए कोविड किट का वितरण

 1. मतदाताओं के लिए: 29 लाख हैंड सैनिटाइजर यूनिट्स, 18 लाख फेस शील्ड, 7.21 लाख हाथ के दस्ताने.

2. केंद्रीय पुलिस के लिए: 5.63 लाख हैंड सेनिटाइज़र यूनिट्स, 11.26 लाख 3-प्लाई मास्क, 5.63 लाख फेस शील्ड, 11.26 लाख हाथ के दस्ताने.

3. राज्य पुलिस के लिए: 67,830 हैंड सैनिटाइजर यूनिट्स, 4.06 लाख 3-प्लाई मास्क, 2.03 लाख फेस शील्ड, 4.06 लाख हाथ के दस्ताने.

4. मतदान कर्मियों के लिए: 7.66 लाख हैंड सैनिटाइजर, 46 लाख 3-प्लाई मास्क, 7.66 लाख फेस शील्ड, 23 लाख हाथ के दस्ताने, 1.06 लाख आईआर थर्मामीटर.

ये भी पढ़ें: हरियाणा: पति ने शौचालय में कर दिया था कैद, डेढ़ साल बाद पुलिस ने निकाला बाहर

Related Posts