बिहार में अचानक बिगड़ा मौसम का मिजाज, 6 जिलों में वज्रपात से 15 लोगों की मौत

मुख्यमंत्री कार्यालय के जारी किए गए एक बयान के मुताबिक, "मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने वज्रपात से गोपालगंज, रोहतास और भोजपुर में तीन-तीन और सारण, कैमूर और वैशाली में दो-दो लोगों की मौत पर गहरी शोक संवेदना जताई है."

बिहार (Bihar) के कई जिलों में मंगलवार को अचानक मौसम ने करवट ली और मूसलाधार बारिश हुई. इस दौरान राज्य के छह जिलों में वज्रपात (आकाशीय बिजली) की चपेट में आने से 15 लोगों की मौत हो गई. इधर, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने इस घटना पर दुख जताते हुए जान गंवाने वालों के परिजनों को चार-चार लाख रुपये सहायता राशि देने के निर्देश दिए हैं.

आपदा प्रबंधन विभाग (Disaster Management Department) के एक अधिकारी ने मंगलवार को बताया, “राज्य के छह जिलों में वज्रपात (Lightning Strikes) की घटना से 15 लोगों की मौत हुई है. गोपालगंज, रोहतास और भोजपुर में वज्रपात की चपेट में आने से सबसे ज्यादा तीन-तीन लोगों की मौत हुई है.” इसके आलावा कई जगहों पर जलभराव की भी समस्या पैदा हो गई है जिससे यातायात प्रभावित हुआ है और जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है.

कई स्थानों पर जारी किया गया अलर्ट

राजधानी पटना में स्थित मौसम विज्ञान केंद्र (Meteorological Center) ने मंगलवार को कई स्थानों पर बारिश के साथ-साथ वज्रपात का अलर्ट जारी किया है. मुख्यमंत्री कार्यालय के जारी किए गए एक बयान के मुताबिक, “मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने वज्रपात से गोपालगंज, रोहतास और भोजपुर में तीन-तीन और सारण, कैमूर और वैशाली में दो-दो लोगों की मौत पर गहरी शोक संवेदना जताई है.”

मुख्यमंत्री ने कहा कि आपदा की इस घड़ी में वे प्रभावित परिवारों के साथ हैं. मुख्यमंत्री ने बिना देर किए पीड़ित परिजनों को चार-चार लाख रुपये अनुग्रह राशि देने का निर्देश दिया है. मुख्यमंत्री ने लोगों से अपील की है कि सभी लोग खराब मौसम में पूरी सावधानी बरतें और वज्रपात से बचाव के लिए आपदा प्रबंधन विभाग के जारी किए गए सुझावों का पालन करें. (IANS)

Related Posts