बिहार विधानसभा चुनाव: RJD के बेरोजगारी हटाओ पोर्टल पर 9 दिन में हुए 5 लाख रजिस्ट्रेशन

तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) लगातार अपने भाषणों में JDU पर हमला कर रहे हैं. RJD के मुताबिक उनके द्वारा बेरोजगारों के लिए बनाए गए बेरोजगारी हटाओ पोर्टल पर 9 दिन के भीतर ही 5 लाख से ज्यादा रजिस्ट्रेशन हो चुके हैं.

tejashwi yadav
तेजस्वी यादव (फाइल फोटो)

बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Elections) में बेरोजगारी को महागठबंधन मुख्य चुनावी मुद्दा बनाने में जुटा है. RJD और कांग्रेस इस मुद्दे पर अपने-अपने आंकड़े पेश कर रहे हैं. विपक्षी दल सरकार को इस मुद्दे पर घेरने के लिए हर संभव कोशिश में लगे हैं. RJD नेता तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) लगातार अपने भाषणों में बेरोजगारी का मुद्दा उठा रहे हैं. RJD के मुताबिक उनके द्वारा बेरोजगारों के लिए बनाए गए बेरोजगारी हटाओ पोर्टल पर 9 दिन के भीतर ही 5 लाख से ज्यादा रजिस्ट्रेशन हो चुके हैं.

जिला स्तरीय कांग्रेस वर्चुअल क्रांति महासम्मेलनों में चाहे राष्ट्रीय स्तर के नेता हों या राज्य स्तरीय, सभी बोरोजगारी के मुद्दे पर सरकार को घेर रहे हैं. कांग्रेस बिहार विधानसभा चुनाव के घोषणा पत्र को युवाओं के हिसाब से बनाने में लगी है. पार्टी युवाओं को यह विश्वास दिलाना चाहती है कि कांग्रेस का हाथ युवाओं के साथ है. कांग्रेस यह भी बताना चाहती है कि वह सिर्फ सरकारी भर्तियों को ही नहीं भरेगी बल्कि रोजगार के नए विकल्पों की तलाश करेगी.

राजद ने किया नौकरी का वादा

राजद नेता तेजस्वी यादव ने सत्ता में आने पर बेरोजगारों को नौकरी देने का वादा किया है. तेजस्वी ने कहा कि बिहार में बेरोजगारी दर सर्वाधिक है. यहां बेरोजगारी दर 46.6 प्रतिशत है. 18 से 35 वर्ष की आयु सीमा में बेरोजगारी दर और अधिक है. इसी लिए RJD के चुनावी एजेंडे में यह मुद्दा टॉप पर है.

RLSP ने कहा, बिहार में बनेगी महागठबंधन की सरकार

राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (RLSP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने दावा किया है कि इस बार बिहार विधानसभा चुनाव में महागठबंधन की सरकार बनेगी. NDA की सरकार को जनता बदलने की तैयारी में है. मंगलवार को भोजपुर के कई लोगों को रालोसपा की सदस्यता दिलाने के बाद उन्होंने कहा कि राज्य में शिक्षा, स्वास्थ्य, सिंचाई की स्थिति बदहाल है. जब तक सरकारी स्कूलों में बेहतर शिक्षा नहीं मिलती तब तक गरीबों के बच्चों को अच्छी शिक्षा नहीं मिलेगी.

‘किसान विरोधी है मोदी सरकार’

उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कांग्रेस वर्चुअल क्रांति महासम्मेलन में सारण तथा वैशाली जिले के कार्यकर्ताओं के साथ बातचीत की. यहां उन्होंने कहा कि ”केंद्र की मोदी सरकार ने अर्थव्यवस्था को पूरी तरह से चौपट कर दिया है. पूर्व PM मनमोहन सिंह के नेतृत्व में वैश्विक मंदी के दौरान भी भारत की र्थव्यवस्था कमजोर नहीं हुई. मोदी सरकार किसानों की हितैषी न्यूनतम समर्थन मूल्य को भी अध्यादेश लाकर खत्म करना चाहती है.”

Related Posts