Bihar election 2020: तेजप्रताप बनाम तेजस्वी! जानें कौन कितना है धनवान और दोनों के पास कितनी है प्रॉपर्टी

Bihar election tejashwi tejpratap property: तेजस्वी यादव ने अपने चुनावी हलफनामे में जो जानकारी दी है उसके मुताबिक 2015 के चुनाव में उनके पास 2.32 करोड़ की प्रॉपर्टी थी जिसमें इस बार 153 प्रतिशत का इजाफा हुआ है. प्रॉपर्टी में इतने भारी-भरकम इजाफे को लेकर विपक्षी दलों ने तेजस्वी यादव पर निशाना साधा है और पूछा है कि इतनी प्रॉपर्टी कैसे बनाई.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 5:33 pm, Fri, 16 October 20
तेजस्वी और तेजप्रताप यादव

राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) प्रमुख लालू यादव और राबड़ी देवी के दोनों बेटे तेजप्रताप व तेजस्वी यादव ने विधानसभा चुनाव के लिए नामांकन कर दिया है. तेजस्वी यादव अपनी पुरानी सीट राघोपुर से लड़ेंगे जबकि तेजप्रताप यादव हसनपुर सीट. नामांकन के साथ ही दोनों की धन-दौलत और प्रॉपर्टी की जानकारी सामने आई है. लालू यादव के छोटे बेटे तेजस्वी यादव तकरीबन 6 करोड़ रुपये के मालिक हैं जबकि तेजप्रताप यादव 2.8 करोड़ रुपये के मालिक हैं. इस लिहाज से तेजस्वी यादव अपने बड़े भाई तेजप्रताप यादव से ज्यादा धनवान हैं.

तेजस्वी यादव ने अपने चुनावी हलफनामे में जो जानकारी दी है उसके मुताबिक 2015 के चुनाव में उनके पास 2.32 करोड़ की प्रॉपर्टी थी जिसमें इस बार 153 प्रतिशत का इजाफा हुआ है. प्रॉपर्टी में इतने भारी-भरकम इजाफे को लेकर विपक्षी दलों ने तेजस्वी यादव पर निशाना साधा है और पूछा है कि इतनी प्रॉपर्टी कैसे बनाई. तेजस्वी यादव 4.74 करोड़ रुपये की अचल संपत्ति के हकदार हैं. 2015 और 2020 का आंकड़ा देखें तो तेजस्वी के पास पिछले चुनाव के वक्त 1.2 लाख नकद, 17.9 लाख का बैंक बैलेंस, 5.38 लाख के स्टॉक और बॉन्ड्स, ढाई लाख की जूलरी और अन्य प्रॉपर्टी 1.13 करोड़ की थी. हलफनामे के मुताबिक तेजस्वी के पास कोई गाड़ी नहीं है.

बैंक बैलेंस में बढ़ोतरी
दिलचस्प बात यह है कि तेजस्वी यादव के पास 2015 में 1.2 लाख और 2020 में भी 1.2 लाख रुपये कैश थे. 2020 में बैंक बैलेंस लगभग 18 लाख से बढ़कर 31.79 लाख रुपये हो गया. स्टॉक और बॉन्ड्स में भी निवेश बढ़ा और यह 5.38 लाख से बढ़कर 4.88 लाख रुपये हो गया. जूलरी में लगभग दोगुने का इजाफा हुआ और 2015 में जहां 2.6 लाख की जूलरी थी, वह 2020 में 4.25 लाख रुपये की हो गई. तेजस्वी यादव की अन्य संपत्तियों में बड़ी बढ़ोतरी देखी गई है. अन्य कैटगरी में वे 2015 में 1.13 करोड़ के मालिक थे जो 2020 में 4.32 करोड़ रुपये हो गया.

ये भी पढ़ें: Bihar election 2020: सालों साल बढ़ता गया BJP का वोट शेयर, बिहार चुनाव ने पार्टी को दिलाई कामयाबी

तेजस्वी यादव की अचल संपत्तियों में भी बड़ी बढ़ोतरी दर्ज की गई है. फिलहाल वे 1.15 करोड़ रुपये की अचल संपत्ति के मालिक हैं. उनके पास 35.7 लाख की जमीन है जो पिछले चुनाव में साढ़े छब्बीस लाख की थी. गै-कृषि जमीन की जहां तक बात है तो उनके पास अभी 35 लाख की ऐसी जमीन है, जबकि 2015 में साढ़े 28 लाख की थी. तेजस्वी यादव के पास अभी 30 लाख की कॉमर्शियल प्रॉपर्टी है, जबकि 2015 में 24 लाख की ऐसी प्रॉपर्टी थी. रेसिडेंशियल प्रॉपर्टी के नाम पर तेजस्वी यादव 15 लाख की प्रॉपर्टी के मालिक हैं जबकि 5 साल पहले यह प्रॉपर्टी मात्र ढाई लाख का हुआ करती थी. तेजस्वी यादव पर 17,578 रुपये की देनदारी है. उनके खिलाफ 11 आपराधिक मामले चल रहे हैं जिनमें धोखाधड़ी और भ्रष्टाचार से जुड़े केस भी हैं.

तेजप्रताप के पास कितनी प्रॉपर्टी?
तेजस्वी यादव की प्रॉपर्टी एक साल में साढ़े तीन करोड़ रुपये बढ़ने को लेकर तरह-तरह के सवाल उठाए जा रहे हैं. सबसे बड़ी बात यह है कि एक तरफ प्रॉपर्टी बढ़ रही है लेकिन दूसरी तरफ उनकी टैक्स देनदारी घटती जा रही है. 2015-16 में तेजस्वी यादव ने 39.80 लाख रुपये का टैक्स दिया, जबकि 2016-17 में 34.70 लाख रुपये टैक्स में दिए. आगे इसमें और कमी आई और उन्होंने 2017-18 में 10.39 लाख रुपये और 2018-19 में 1.41 लाख रुपये का आईटीआर भरा है. हलफनामे के मुताबिक, 2019-20 में तेजस्वी ने 2.89 लाख रुपये का टैक्स जमा किया है.

अब बात करते हैं लालू यादव के बड़े बेटे और हसनपुर सीट से अपना परचा भरने वाले तेजप्रताप यादव की. तेजप्रताप यादव ने 2015 में महुआ विधानसभा सीट से चुनाव लड़ा था और इस बार हसनपुस सीट से ताल ठोंक रहे हैं. अभी उनके पास 2.83 करोड़ रुपये की संपत्ति है. तेजप्रताप यादव पूर्व में बिहार के स्वास्थ्य मंत्री भी रह चुके हैं. हलफनामे के मुताबिक, तेजप्रताप के पास दो गाड़ियां हैं जिनमें 15.46 लाख की सीबीआर 1000आरआर और 29.43 लाख की एक बीएमडब्ल्यू कार है. उनके छोटे भाई तेजस्वी के पास कोई गाड़ी नहीं है.