Bihar Election 2020: पिछले चुनाव में किसको मिली कितनी सीट, क्या रहा वोट प्रतिशत

बिहार विधानसभा चुनाव 2015 में किस पार्टी ने किसके साथ मिलकर चुनाव लड़ा था और किसको कितनी सीटें मिली थीं यहां पढ़िए. साथ ही वोट प्रतिशत (Bihar Election 2015 Seat and Vote Share) क्या रहा था जानिए.

Bihar election
नीतीश कुमार और तेजस्वी यादव

बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar election 2020) के लिए आज तारीखों का ऐलान हो सकता है. चुनाव आयोग आज इसके लिए प्रेस कॉन्फ्रेंस करेगा. इस बार के चुनाव से पहले पिछले चुनाव यानी बिहार विधानसभा चुनाव 2015 में क्या नतीजे रहे थे उनको जान लेना भी जरूरी है. ऐसा इसलिए क्योंकि जो पार्टियां (आरजेडी और जेडीयू) पहले साथ थीं वह अब कट्टर दुश्मन होकर आमने-सामने हैं.

बिहार विधानसभा चुनाव 2015 में किस पार्टी ने किसके साथ मिलकर चुनाव लड़ा था और किसको कितनी सीटें मिली थीं यहां पढ़िए. साथ ही वोट प्रतिशत (Bihar Election 2015 Seat and Vote Share) क्या रहा था जानिए.

पढ़ें – बिहार चुनाव के पहले सियासी दलों में छिड़ी पोस्टर वार

2015 में जो विधानसभा चुनाव हुए थे उसमें एनडीए गठबंधन में भारतीय जनता पार्टी, लोक जनशक्ति पार्टी, राष्ट्रीय लोक समता पार्टी और हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा शामिल थे. वहीं महागठबंधन में जनता दल यूनाइडेट, राष्ट्रीय जनता दल और कांग्रेस शामिल थी.

बिहार विधानसभा चुनाव 2015 के नतीजे

NDA: भाजपा – 53, लोजपा – 2, रालोसपा – 2, हम (सेक्यूलर) – 1
महागठबंधन : जदयू 71, राजद – 80, कांग्रेस – 27

2015 के विधानसभा का वोट प्रतिशत

2015 के चुनाव में वैसे जीत महागठबंधन की हुई थी. महागठबंधन को 43 फीसदी वोट मिले. मिले थे. इसमें आरजेडी को 18.4 फीसदी, जेडीयू को 16.8 और कांग्रेस को 6.7 फीसदी वोट मिले. दूसरी तरफ एनडीए को 33 फीसदी वोट मिले थे. इसमें बीजेपी को 24.4, लोजपा को 4.8 फीसदी, उपेंद्र कुशवाहा की रालोसपा को 2.4 और मांझी की हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा को 2.2 फीसदी वोट मिले.

पढ़ें – बिहार चुनाव: नेताओं नहीं कार्यकर्ताओं का रहेगा दबदबा, बीजेपी ने बदला उम्मीदवार चुनने का तरीका

2015 में मुकेश सहनी भाजपा के लिए प्रचार कर रहे थे लेकिन फिर 2019 के लोकसभा चुनाव में राजद वाले महागठबंधन में थे. वहीं इसबार उपेंद्र कुशवाहा राजद के साथ हैं.

Related Posts