अनलॉक-4: बिहार में आज से कई पाबंदियों में छूट, अब शादी जैसे समारोहों में आ सकेंगे 100 लोग

कोरोना महामारी (Corona Pandemic) को देखते हुए राज्य में शादी समारोह में 50 और अंतिम संस्कार में 20 लोगों को ही मौजूद होने की इजाजत दी गई थी. लेकिन, 21 सितंबर से शादी समारोह और अंतिम संस्कार में 100 लोग तक शामिल हो सकते हैं.

बिहार (Bihar) में अनलॉक-4 (Unlock-4) के तहत सोमवार से आम लोगों को कई तरह की पाबंदियों मे छूट मिल जाएगी. चुनावी राज्य बिहार में अब राजनीतिक सभाओं के लिए भी छूट दी जा रही है. ऐसे कार्यक्रमों में आज से 100 लोग शामिल हो सकते हैं. कोरोना काल (Corona Period) में इस फैसले से सबसे बड़ी राहत उन लोगों को मिलने वाली है जिनके यहां कोई कार्यक्रम आयोजित होने वाला होगा. राज्य में आज से तमाम तरह के कार्यक्रमों सामाजिक, राजनीतिक या धार्मिक गतिविधियों में लोगों के शामिल होने की सीमा बढ़ाकर 100 कर दी गई है.

राज्य में स्कूल-कॉलेज खोलने पर फैसला 22 सितंबर को होगा. इसके लिए राज्य सरकार ने एक उच्चस्तरीय बैठक मंगलवार को बुलाई है. माना जा रहा है कि बैठक के बाद इस पर कुछ अहम फैसला हो सकता है.

अब समारोह में आ सकते हैं 100 लोग

महामारी को देखते हुए राज्य में शादी समारोह में 50 और अंतिम संस्कार में 20 लोगों को ही मौजूद होने की इजाजत दी गई थी. लेकिन, 21 सितंबर से शादी समारोह और अंतिम संस्कार में 100 लोग तक शामिल हो सकते हैं.

कंटेनमेंट जोन में कोई अतिरिक्त राहत नहीं

बता दें कि कंटेनमेंट जोन में रहने वालों की कोई अतिरिक्त राहत नहीं दी जा रही है. यहां पर पहले की तरह ही लॉकडाउन जारी रहेगा. 30 सितंबर तक कंटेनमेंट जोन में किसी तरह की कोई रियायत नहीं दी गई है.

दरअसल, अनलॉक-4 के लिए गृह मंत्रालय द्वारा जारी दिशा-निर्देश को राज्य सरकारों की ओर से नहीं बदला जा सकता. मंत्रालय के आदेश में साफ तौर पर लिखा है कि राज्य या केंद्र शासित प्रदेश केंद्र सरकार से सलाह लिए बिना कंटेनमेंट जोन के बाहर कोई नई पाबंदी नहीं लगा सकते.

कोरोना सैंपल जांच मामले में बिहार का रिकॉर्ड

गौरतलब है कि बिहार में कोरोना सैंपल की जांच के मामले में एक नया रिकॉर्ड बना है. पिछले 24 घंटे में 17,6511 सैंपल की जांच की गई है. यह देश के सभी राज्यों में एक दिन में हुई जांच से अधिक है. अगर राष्ट्रीय स्तर पर देखा जाए तो 24 घंटे में हुए कुल 1206806 सैंपल्स की जांच में बिहार का हिस्सा 14.63% रहा.

Related Posts