चकाई विधानसभा सीटः यहां देखें प्रत्याशी, वोटर्स, जातिगत आंकड़े और इस सीट का पूरा डेटा

Chakai Vidhan Sabha constituency: झारखंड की सीमा से सटे चकाई विधानसभा सीट पर पहला चुनाव 1962 में हुआ था और एसओसी के लाखन मुर्मू यहां से पहले विधायक बने थे.

चकाई विधानसभा सीट पर पहला चुनाव 1962 में हुआ था और पहले चुनाव में एसओसी के लाखन मुर्मू जीते थे.

बिहार में विधानसभा चुनाव का बिगुल बज चुका है. पहले चरण के मतदान में अब कुछ ही दिन बचे हैं. सभी राजनीतिक दलों ने अपने उम्मीदवार पहले चरण की सभी सीटों पर उतार दिए हैं. राज्य की चकाई विधानसभा सीट से आरजेडी (RJD) के टिकट पर सावित्री देवी महागठबंधन की उम्मीदवार हैं. एनडीए से यह सीट जेडीयू (JDU) के खाते में गई है और उसने यहां से संजय प्रसाद को अपना प्रत्याशी बनाया है. साथ ही राष्ट्रीय लोकमत पार्टी के तबरेज अंसारी व निर्दलीय प्रत्याशी संजय पांडेय ने भी अपना नामांकन किया है. वहीं, एलजेपी (LJP) ने यहां से संजय कुमार मंडल को अपना प्रत्याशी बनाया है.

सीट का इतिहास 

बिहार की चकाई विधानसभा सीट जमुई जिले में है. यहां 28 अक्टूबर को वोटिंग होगी. फिलहाल यहां RJD की सावित्री देवी मौजूदा विधायक हैं. 2015 में उन्होंने निर्दलीय उम्मीदवार सुमित कुमार को 12 हजार से अधिक वोटों से हराया था. सुमित कुमार इससे पहले 2010 में झारखंड मुक्ति मोर्चा से चुनाव जीते थे.

यह भी पढ़ेंः जमुई विधानसभा सीट: यहां देखें प्रत्याशी, वोटर्स, जातिगत आंकड़े और इस सीट का पूरा डेटा

झारखंड की सीमा से सटे इस सीट पर पहला चुनाव 1962 में हुआ था और पहले चुनाव में एसओसी के लाखन मुर्मू जीते थे. कुल चुनावों की बात करें तो अभी तक 3 बार BJP, 2-2 बार संयुक्त सोशलिस्ट पार्टी, कांग्रेस और निर्दलीय उम्मीदवार और 1-1 बार RJD, LJP, झारखंड मुक्ति मोर्चा, जनता दल, सोशलिस्ट पार्टी ने जीत हासिल की है.

जातीय समीकरण
इस सीट पर सबसे बड़ी भूमिका यादव वोटरों की है. हालांकि राजपूत, मुस्लिम और रविदास भी यहां अच्छी संख्या में हैं. इस सीट पर 1990 में सबसे अधिक 68.36% वोटिंग हुई थी.

कुल वोटरः 2.78 लाख
पुरुष वोटरः 52.8%
महिला वोटरः 47.3%
ट्रांसजेंडर वोटरः 12 (0.004%)

यह भी पढ़ेंः रफीगंज विधानसभा सीट: यहां देखें प्रत्याशी, वोटर्स, जातिगत आंकड़े और इस सीट का पूरा डेटा

Related Posts