चिराग बोले -‘बांटो और राज करो’ नीतीश की नीति, बताया- पीएम मोदी और BJP से कैसे रिश्ते

चिराग पासवान (Chirag Paswan) ने लिखा आदरणीय नीतीश कुमार (Nitish Kumar) जी ने प्रचार का पूरा ज़ोर मेरे और प्रधानमंत्री जी के बीच दूरी दिखाने में लगा रखा है. बांटो और राज करो की नीति में वो माहिर हैं.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 12:44 pm, Sun, 18 October 20
chirag-paswan
चिराग का जेडीयू पर हमला, 'मैं जमूरा हूं तो मदारी कौन है?, पीएम मोदी का अपमान कर रही है जेडीयू'

बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) की तैयारियों के बीच लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान (Chirag Paswan) ने सीएम नीतीश कुमार (Nitish Kumar) पर हमला बोला है. इसके साथ ही उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) और अपने रिश्तों को लेकर भी बात कही है. एनडीए से अलग होने से पहले ही चिराग नीतीश कुमार (Nitish Kumar) पर लग़ातार हमला बोलते रहे हैं. उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को बांटो और राज्य करो की नीति पर चलने वाला बताया है.

चिराग पासवान ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि बिहार फ़र्स्ट की सोच JDU के नेताओं की गले की फांस बन चुका है. प्रधानमंत्री जी के विकास के मंत्र के साथ मैं और बिहार 1st बिहारी 1st के लिए प्रतिबद्ध हैं.

ये भी पढ़ें-Bihar Election 2020: BJP उम्मीदवार को चिराग का समर्थन, LJP कार्यकर्ताओं से कहा- इनकी मदद करें

बांटो और राज करो की नीतीश की नीति

उन्होंने आगे लिखा कि आदरणीय नीतीश कुमार जी ने प्रचार का पूरा ज़ोर मेरे और प्रधानमंत्री जी के बीच दूरी दिखाने में लगा रखा है. बांटो और राज करो की नीति में माहिर मुख्यमंत्री जी हर रोज़ मेरे और भाजपा के बीच दूरी बनाने का प्रयास कर रहे हैं.

एक अन्य ट्वीट में चिराग पासवान ने कहा कि मेरे और प्रधानमंत्री जी के रिश्ते कैसे है मुझे यह प्रदर्शन करने की ज़रूरत नहीं है. पापा जब अस्पताल में थे तब से लेकर उनकी अंतिम यात्रा तक उन्होंने मेरे लिए जो कुछ किया उसे मैं कभी नहीं भूल सकता.

मैं पीएम मोदी को धर्मसंकट में नहीं डालना चाहता

चिराग पासवान ने लिखा कि मैं नहीं चाहता की मेरी वजह से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी किसी धर्मसंकट में पड़ें, वो अपना गठबंधन धर्म निभाएं. आदरणीय मौजूदा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी को संतुष्ट करने के लिए मेरे खिलाफ कुछ भी कहना पड़े तो निस्संकोच कहें.

नीतीश कुमार जी को भाजपा के साथियों का धन्यवाद करना चाहिए कि वे मुख्यमंत्री के ख़िलाफ़ इतना आक्रोश होने के बावजूद गठबंधनधर्म निभा रहे हैं और हर दिन नीतीश कुमार जी को प्रमाणपत्र देते है की वे चिराग के साथ नहीं हैं.

ये भी पढ़ें-Bihar election 2020: चिराग को भ्रम में नहीं रहना चाहिए, BJP नीतीश के साथ-भूपेंद्र