हिसुआ विधानसभा सीट: यहां देखें प्रत्याशी, वोटर्स, जातिगत आंकड़े और इस सीट का पूरा डेटा

Hisua Vidhan Sabha constituency: हिसुआ विधानसभा सीट पर यादव और भूमिहार सबसे अहम भूमिका में हैं. वहीं मुस्लिम और कोइरी भी अच्छी संख्या में हैं.

हिसुआ विधानसभा सीट पर यादव और भूमिहार सबसे अहम भूमिका में हैं. वहीं मुस्लिम और कोइरी भी अच्छी संख्या में हैं.

बिहार एक बार फिर से अपना मुख्यमंत्री चुनने के लिए तैयार है. पहले चरण की सभी सीटों पर राजनीतिक दलों ने अपने प्रत्याशी उतार दिए हैं. राज्य की हिसुआ विधानसभा सीट पर सीधी टक्कर बीजेपी (BJP) और कांग्रेस (Congress) के बीच में है. बीजेपी ने इस सीट से अनिल सिंह को चुनावी मैदान में उतारा है. वहीं, कांग्रेस के टिकट पर नीतू कुमारी यहां से महागठबंधन की प्रत्याशी हैं. पिछली बार हिसुआ सीट पर बीजेपी के अनिल सिंह और जेडीयू (JDU) प्रत्याशी कौशल यादव के बीच टक्कर थी.

सीट का इतिहास

बिहार की हिसुआ विधानसभा सीट नवादा जिले में है. यहां 28 अक्टूबर को पहले चरण में वोटिंग होगी. मौजूदा समय में यहां से BJP के अनिल सिंह विधायक हैं. पिछले चुनाव में अनिल सिंह BJP से लगातार तीसरी बार विधायक चुने गए. 2015 में उन्होंने कौशल यादव को 12 हजार से अधिक वोटों के अंतर से हराया था. अनिल सिंह से पहले कांग्रेस के आदित्य सिंह का इस सीट पर वर्चस्व माना जाता था. अनिल सिंह ने पहली बार इस सीट पर कमल खिलाया था. वह यहां से तीन बार चुनाव जीते हैं और अब उनके सामने चौथी बार अपना किला बचाने की चुनौती है.

आदित्य सिंह 1980 में निर्दलीय और उसके बाद 1985,1990, 1995, 2000 और फरवरी 2005 में कांग्रेस के टिकट पर चुनाव जीतकर विधायक बने थे. कुल चुनावों में अभी तक 8 बार कांग्रेस, 3-3 बार BJP और निर्दलीय और 1-1 बार जनता दल और जनता पार्टी यहां से जीत चुकी है.

जातीय समीकरण
इस सीट पर यादव और भूमिहार सबसे अहम भूमिका में हैं. वहीं मुस्लिम और कोइरी भी अच्छी संख्या में हैं. हिसुआ विधानसभा सीट पर सबसे अधिक वोटिंग 1990 विधानसभा चुनाव में हुई थी. इस दौरान 71.8% मतदान हुआ था.

कुल वोटरः 3.65 लाख
पुरुष वोटरः 1.89 लाख (51.98%)
महिला वोटरः 1.74 लाख (47.52%)
ट्रांसजेंडर वोटरः 16 (0.004%)

यह भी पढ़ेंः रफीगंज विधानसभा सीट: यहां देखें प्रत्याशी, वोटर्स, जातिगत आंकड़े और इस सीट का पूरा डेटा

Related Posts