बिहार: HAM ने रघुवंश के अंतिम पत्र को लेकर पटना में लगाए पोस्टर, निशाने पर लालू प्रसाद यादव

HAM के लगाए गए इस पोस्टर में NDA में शामिल दलों के नेताओं की तस्वीर भी लगाई गई है. पोस्टर में RJD अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) को 'होटवार जेल सुप्रीमो' बताते हुए पूछा गया है कि 'अपने बेटों को स्थापित करने के लिए वह कितनों की बलि लेंगे'.
ham poster lalu prasad yadav, बिहार: HAM ने रघुवंश के अंतिम पत्र को लेकर पटना में लगाए पोस्टर, निशाने पर लालू प्रसाद यादव

बिहार में इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Elections) को लेकर राजनीतिक दल कोई भी मुद्दा हाथ से जाने नहीं दे रहे हैं. यही वजह है कि वरिष्ठ समाजवादी नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह (Raghuvansh Prasad Singh) के अस्पताल से लिखे पत्र पर भी राजनीति थमने का नाम नहीं ले रही है. इस पत्र को लेकर मंगलवार को हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (HAM) ने पटना की सड़कों के किनारे कई पोस्टर लगाए हैं, जिसमें RJD अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) पर कई आरोप लगाए गए हैं.

HAM के अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ (Minority Cell) के लगाए गए इस पोस्टर में NDA में शामिल दलों के नेताओं की तस्वीर भी लगाई गई है. पोस्टर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के प्रमुख चिराग पासवान और HAM के प्रमुख जीतन राम मांझी की तस्वीर है.

क्या लिखा है पोस्टर में

पोस्टर में RJD अध्यक्ष लालू प्रसाद को ‘होटवार जेल सुप्रीमो’ बताते हुए पूछा गया है कि ‘अपने बेटों को स्थापित करने के लिए वह कितनों की बलि लेंगे’. बता दें कि RJD के नेताओं ने दिल्ली एम्स से रघुवंश प्रसाद सिंह के बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को लिखे गए पत्र पर सवाल उठाए थे. इसके बाद NDA के घटक दल इस मुद्दे को लेकर मुखर हो गए हैं.

रघुवंश प्रसाद सिंह का रविवार को दिल्ली एम्स (Delhi AIIMS) में निधन हो गया था. इससे पहले उन्होंने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) को एक पत्र लिखा था जिसमें वैशाली गढ़ पर गणतंत्र दिवस के मौके पर 26 जनवरी को तिरंगा फहराने की मांग समेत कई अन्य मांगें रखी थी. (IANS)

Related Posts