झंझारपुर विधानसभा सीट: यहां देखें प्रत्याशी, वोटर्स, जातिगत आंकड़े और इस सीट का पूरा डेटा

Jhanjharpur Vidhan Sabha constituency: झारपुर विधानसभा सीट पर सबसे बड़ी भूमिका में ब्राह्मण मतदाता हैं. हालांकि मुस्लिम वोटर भी यहां अच्छी संख्या में हैं. यादव और कोइरी वोटरों का भी स्थानीय राजनीति में दखल रहता है.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 8:50 am, Sun, 18 October 20
झारपुर विधानसभा सीट पर सबसे बड़ी भूमिका में ब्राह्मण मतदाता है. हालांकि मुस्लिम वोटर भी यहां अच्छी संख्या में हैं.

बिहार एक बार फिर अपना मुख्यमंत्री चुनने के लिए तैयार है. राज्य में चुनावी बयार बह रही है और दूसरे चरण की विधानसभा सीटों पर अपनी किस्मत आजमा रहे सभी सियासी दलों के उम्मीदवारों ने अपनी जीत के लिए पूरा जोर लगा दिया है. राज्य की झंझारपुर विधानसभा सीट से एनडीए समर्थित बीजेपी (BJP) के प्रत्याशी पूर्व मंत्री नीतीश मिश्रा यहां से चुनावी मैदान में हैं. वहीं, महागठबंधन के धड़े से यह सीट सीपीआई (CPI) के खाते में गई है और उसने यहां से रामनारायण यादव को अपना उम्मीदवार बनाया है. पूर्व मंत्री नीतीश मिश्रा झंझारपुर विधानसभा सीट से छठी बार मैदान में हैं. वो वर्ष 2000 के विधानसभा चुनाव से लगातार यहां से चुनाव लड़ते रहे हैं.

सीट का इतिहास

बिहार की झंझारपुर विधानसभा सीट मधुबनी जिले में है. यहां दूसरे चरण में 3 नवंबर को वोट डाले जाएंगे. इस सीट से RJD के गुलाब यादव मौजूदा विधायक हैं. 2015 में उन्होंने BJP के उम्मीदवार को बेहद नजदीकी अंतर से हराया था. उन्होंने भारतीय जनता पार्टी के नितीश मिश्र को सिर्फ 834 वोटों से मात दी थी. बता दें कि नितीश फरवरी 2005, अक्टूबर 2005 और 2010 में JDU के टिकट पर जीतकर विधायक रह चुके हैं. उनके पिता जगन्नाथ मिश्र बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री थे.

जगन्नाथ मिश्र 1972 से लेकर 1990 तक लगातार पांच बार कांग्रेस के टिकट पर जीते थे. 2000 विधानसभा चुनाव में RJD के जगदीश नारायण चौधरी यहां से जीतकर विधायक बने थे. अभी तक हुए कुल चुनावों में यहां 9 बार कांग्रेस, 3 बार JDU, 2 बार JDU, 1-1 बार जनता दल और संयुक्त सोशलिस्ट पार्टी जीत चुकी है.

जातीय समीकरण
इस सीट पर सबसे बड़ी भूमिका में ब्राह्मण मतदाता हैं. हालांकि मुस्लिम वोटर भी यहां अच्छी संख्या में हैं. यादव और कोइरी वोटरों का भी स्थानीय राजनीति में दखल रहता है. यहां 1980 विधानसभा चुनाव में सर्वाधिक 85.2% वोटिंग हुई थी, इस दौरान महिलाओं का वोटिंग प्रतिशत सबसे ज्यादा 82% था.

कुल वोटरः 3.03 लाख
पुरुष वोटरः 1.58 लाख (52.4%)
महिला वोटरः 1.43 लाख(47.5%)
ट्रांसजेंडर वोटरः 8 (0.002%)