कुर्था विधानसभा सीट: यहां देखें प्रत्याशी, वोटर्स, जातिगत आंकड़े और इस सीट का पूरा डेटा

kurtha Vidhan Sabha constituency: कुर्था में इस बार 19 प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं. जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) ने कुर्था विधानसभा सीट से सत्यदेव सिंह को अपना प्रत्याशी बनाया है जबकि राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) ने बागी कुमार वर्मा को उम्मीदवार बनाया है.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 5:30 pm, Thu, 15 October 20

बिहार के अरवल जिले के दो विधानसभा सीटों में एक है कुर्था सीट. जातिगत हिंसा को लेकर कुर्था का इलाका हमेशा से सुर्खियों में रहा है. अब विकास की बयार बही है तो परिस्थितियों में तब्दीली आई है. कभी नरसंहार के लिए कुख्यात रहे इस इलाके में अब शांति है. इस सीट पर एनडीए और महागठबंधन के बीच टक्कर देखी जाती रही है. कुर्था सीट पहले जहानाबाद जिले में आती थी लेकिन बाद में अरवल जिला बनने के बाद कुर्था सीट इसी जिले में शामिल कर दी गई. 2010 में सत्यदेव कुशवाहा और 2015 में भी उन्हें ही विजयी घोषित कर जनता ने विधानसभा भेजा. कुर्था में इस बार 19 प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं. जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) ने कुर्था विधानसभा सीट से सत्यदेव सिंह को अपना प्रत्याशी बनाया है जबकि राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) ने बागी कुमार वर्मा को उम्मीदवार बनाया है.

यहां पहले चरण में 28 अक्टूबर को मतदान होगा. फिलहाल कुर्था से JDU के सत्यदेव सिंह मौजूदा विधायक हैं. पिछले चुनाव में सत्यदेव सिंह की यहां से लगातार दूसरी जीत थी. उन्होंने 2015 में रालोसपा के अशोक कुमार वर्मा को 14,119 वोटोंसे हराया था. इससे पहले फरवरी 2005 और अक्टूबर 2005 में सुचित्रा सिन्हा यहां से जीती थी. फरवरी में उन्होंने LJP और अक्टूबर में JDU के टिकट पर चुनाव लड़ा था. उनसे पहले 2000 में RJD के शिवबचन यादव यहां से जीते थे. अब तक हुए कुल विधानसभा चुनावों में 3 बार JDU को, 2-2 बार कांग्रेस और जनता दल और 1-1 बार निर्दलीय, LJP, RJD, जनता पार्टी (सेक्युलर), शोषित समाज दल, शोषित दल, संयुक्त सोशलिस्ट पार्टी, प्रजा सोशलिस्ट पार्टी और सोशलिस्ट पार्टी को यहां से जीत मिली है.

ये भी पढ़ें: अरवल विधानसभा सीट : यहां देखें प्रत्याशी, वोटर्स, जातिगत आंकड़े और इस सीट का पूरा डेटा

जातीय समीकरण
इस सीट पर सबसे महत्वपूर्ण भूमिका यादव, भूमिहार, कोइरी की रहती है. हालांकि राजपूत, रविदास, कुर्मी भी यहां निर्णायक संख्या में हैं. अब तक यहां सबसे अधिक 1990 में 73.88 प्रतिशतमतदान हुआ था.
कुल वोटरः 2.41 लाख
पुरुष वोटरः 1.24 लाख (51.74%)
महिला वोटरः 1.15 लाख (47.91%)
ट्रांसजेंडर वोटरः 10 (0.003%)