बिहार: पीएम मोदी ने किया कोसी रेल महासेतु का उद्घाटन, 86 साल से चला आ रहा इंतजार खत्म

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने आज कोसी रेल महासेतु (Kosi Rail Mahasetu) का उद्घाटन किया. 86 साल बाद दो हिस्सों में बंटा मिथलांचल रेल मार्ग की मदद से जुड़ गया है. इसका सपना पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी ने देखा था.

pm modi

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने आज कोसी रेल महासेतु (Kosi Rail Mahasetu) का उद्घाटन करके मिथलांचल का 86 साल का इंतजार खत्म कर दिया. इसी के साथ ही पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का इसको लेकर देखा गया सपना भी पूरा हो गया. पीएम मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से कोसी रेल महासेतु (Kosi Rail Mahasetu) का उद्घाटन किया. बता दें कि 86 साल बाद दो हिस्सों में बंटा मिथलांचल रेल मार्ग की मदद से जुड़ा है. इसके अलावा आज प्रधानमंत्री 12 अन्य रेल परियोजनाओं की भी सौगात देंगे.

अब कोसी रेल महासेतु (Kosi Rail Mahasetu) पर ट्रेनों का परिचालन शुरू हो जाएगा. 2003 में पुर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने इसकी आधारशिला रखी थी. इसमें कोसी महासेतु पर ईस्ट-वेस्ट कोरिडोर योजना के तहत सड़क मार्ग से जोड़ना भी शामिल था. फिर कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में कोसी महासेतु पर सड़क मार्ग का उद्घाटन को हुआ लेकिन रेलवे वाला काम धीमा पड़ गया था. फिर 2014 में मोदी सरकार ने इस काम को फिर से तेजी से शुरू करवाया.

पढ़ें – दरभंगा में नए एम्स को मिली मंजूरी, PM ने कहा ‘बिहार में बढ़ेंगी स्वास्थ्य सुविधाएं’

86 सालों से बंटा है मिथलांचल

इलाके के लोग भी बहुत खुश हैं. लोगों का कहना है 86 वर्षों से मिथलांचल दो भागों में बंटा था जो अब एक हो जाएगा. इससे इधर से उधर जाने में आसानी होगी. बता दें कि 1887 में निर्मली-सरायगढ़ के बीच एक मीटरगेज लिंक बना था. फिर 1934 के भूकंप के दौरान रेल लिंक टूट गया तब से रेल सेवा समाप्त थी. इसके लिए 200 किलोमीटर की रेल यात्रा करनी पड़ती थी.

Related Posts