बिहार: राजपूत नहीं थे सुशांत… RJD नेता के बयान पर भड़की BJP-JDU

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) मामले में RJD नेता के बयान के बाद सत्ता पक्ष भड़क गया. विपक्षी दल के नेता ने कहा था कि महाराणा प्रताप के वंश के लोग आत्महत्या (Suicide) नहीं कर सकते.

Sushant Singh Rajput

बिहार में सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) मामले में राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के एक नेता के बयान के बाद सत्ता पक्ष भड़क गया है. RJD के विधायक अरूण कुमार यादव ने कहा था कि महाराणा प्रताप के वंश के लोग आत्महत्या नहीं कर सकते. विपक्षी दल के नेता के बयान के बाद सत्ता पक्ष उनसे माफी की मांग कर रहा है.

न्यूज एजेंसी आईएएनएस की खबर के मुताबिक विधायक ने अपने विधानसभा क्षेत्र सहरसा में बुधवार को एक सड़क के उद्घाटन कार्यक्रम में हिस्सा लिया था. यहां उन्होंने कहा, ‘महाराणा प्रताप की संतान गला में डोरी डालकर नहीं मर सकता. आप लोग बुरा मत मानिएगा. सुशांत राजपूत नहीं था. राजपूत डोरी लगाकर मरता है भला? वह मुकाबला करता है.’

BJP ने कहा- ‘मांगे माफी’

इस बयान के बाद सत्ता पक्ष के कई नेताओं ने विधायक के खिलाफ मोर्चा खोल दिया. BJP प्रवक्ता डॉ निखिल आनंद ने कहा, ‘RJD विधायक अरूण यादव की सुशांत सिंह राजपूत की संदेहास्पद मृत्यु के मामले में टिप्पणी बिल्कुल ही अनर्गल है और जातिवादी मानसिकता से ग्रसित है.’

उन्होंने कहा कि सुशांत मामले पर कांग्रेस और RJD दोनों की घटिया मानसिकता दिखाई देती है, जोकि एक्सपोज हो चुकी है. RJD के नेता तेजस्वी यादव को चाहिए कि वे महागठबंधन और RJD नेताओं की ओर से बिहार के बेटे सुशांत सिंह राजपूत के खिलाफ अनर्गल जातिवादी टिप्पणी पर सार्वजनिक रूप से माफी मांगे.

JDU ने भी किया विरोध

दूसरी ओर JDU प्रवक्ता संजय सिंह ने भी RJD के विधायक की टिप्पणी पर नाराजगी जताई. उन्होंने कहा, ‘RJD नेता तेजप्रताप ने वरिष्ठ नेता रघुवंश प्रसाद सिंह को ‘एक लोटा पानी’ बताया और अब सुशांत की जाति पर ही प्रश्न उठाए जा रहे हैं. मैं विधायक से माफी मांगने की मांग करता हूं.’

बता दें कि अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत मूलतः बिहार के रहने वाले थे. उनका शव उनके मुंबई स्थित घर में फंदे से लटकता हुआ पाया गया था, जिसके बाद सुशांत की मौत का मामला एक राजनीतिक मुद्दा बन गया.

Related Posts