उपचुनाव से पहले शिवराज का बड़ा दांव, किसान सम्मान निधि- कल्याण निधि मिलाकर हुई 10,000

मध्य प्रदेश में विधानसभा की 27 सीटें खाली हैं. सत्ता में बने रहने के लिए बीजेपी (BJP) को कम से कम नौ सीटों पर जीत हासिल करनी होगी. BJP हर हाल में इस उपचुनाव में जीत को अपने नाम करने में लगी है.

मध्य प्रदेश की दो दर्जन से अधिक सीटों पर उपचुनाव (By Election) होने हैं. उपचुनाव से पहले शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) सरकार ने किसानों को बड़ा तोहफा दिया है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ऐलान किया है कि अब हर साल किसानों को 10 हजार रुपये की मदद दी जाएगी.

मुख्यमंत्री कल्याण स्कीम के तहत किसानों को दो किश्तों में 4 हजार रुपये मिलेंगे, जबकि PM किसान सम्मान निधि के तहत 6 हजार रुपये मिलेंगे.

आपको बता दें कि मध्य प्रदेश में विधानसभा की 27 सीटें खाली हैं. सत्ता में बने रहने के लिए बीजेपी (BJP) को कम से कम नौ सीटों पर जीत हासिल करनी होगी. मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता कमलनाथ ने हाल ही में कहा था कि यह उप-चुनाव कोई सामान्य चुनाव नहीं है, ये प्रदेश का भविष्य तय करने वाला चुनाव है. यही कारण है कि हर कोई अपना भविष्य बचा रहा है.

जीत पक्की करने के लिए किसानों को तोहफा

शिवराज सिंह चौहान उपचुनाव में जीत को पक्का करना चाहते हैं, इसीलिए उन्होंने किसानों को यह तोहफा दिया है. किसानों को अब हर साल 10 हजार रुपये मिलेंगे.

इससे पहले शिवराज सरकार ने किसानों की कर्जमाफी की थी. लेकिन उस पर विपक्ष ने खूब तंज कसा था. क्योंकि कुछ किसानों का एक रुपया, पांच रुपया माफ हुआ था, जिसे लेकर विपक्ष ने तंज कसा था.

खुद को शिवराज ने बताया टेंपरेरी CM

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का एक बयान इन दिनों चर्चा में है. दरअसल सीएम चौहान ने खुद को टेंपरेरी मुख्यमंत्री बताया, जो इस वक्त चर्चा का विषय बना हुआ है. सीएम चौहान रविवार को मंदसौर जिले के सुवासरा विधानसभा क्षेत्र के सीतामऊ में थे. सुवासरा विधानसभा सीट पर उपचुनाव होने वाला है.

बीजेपी से यहां उम्मीदवार हरदीप सिंह डंग हो सकते हैं, जो हाल में ही कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में आए हैं और चौहान सरकार में मंत्री भी हैं. यहां मुख्यमंत्री ने विकास कार्यों का लोकार्पण किया. इस दौरान उन्होंने कहा कि ”मैं अभी टेंपरेरी मुख्यमंत्री हूं, उप-चुनाव में जीत नहीं मिली तो टेंपरेरी ही रह जाऊंगा, यहां की जीत के बाद परमानेंट मुख्यमंत्री हो जाऊंगा”.

Related Posts