सीएम शिवराज की सुरक्षा में बड़ी चूक, हेलीपैड पर छाया अंधेरा, गाड़ियों की रोशनी में लैंडिंग

सीएम शिवराज (CM Shivraj) का हेलीकॉप्टर रात के अंधेरे में मुरैना (Morena) पहुंचा, तो उसे लैंडिंग में काफी परेशानी हुई. जिला प्रशासन ने मौके पर खड़ी सभी गाड़ियों की लाइट जलाई और उसके बाद मुख्यमंत्री के हेलीकॉप्टर की लैंडिंग कराई जा सकी.

चुनावी सभाएं रद्द होने के मामले में सुप्रीम कोर्ट जाएंगे सीएम शिवराज सिंह चौहान.

मुरैना (Morena) दौरे पर पहुंचे मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) की सुरक्षा में जिला प्रशासन की तरफ से बड़ी लापरवाही देखने को मिली, यह लापरवाही सीएम शिवराज के हेलीकॉप्टर लैंडिंग (Helicopter Landing)  के दौरान हुई. जब मुरैना में सीएम शिवराज का हेलीकॉप्टर लैंड हो रहा था, उस वक्त हेलीपैड पर एक भी लाइट (Light)  नहीं जल रही थी. जिला प्रशासन की गाड़ियों की लाइट जलाई गई, तब जाकर सीएम शिवराज के हेलीकॉप्टर की लैंडिंग हो सकी.

हेलीकॉप्टर (Helicopter) में सीएम शिवराज सिंह चौहान, राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया और गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा मौजूद थे. कहा जा सकता है कि जिला प्रशासन की तरफ से सीएम शिवराज की लैंडिंग के दौरान एक बड़ी लापरवाही हुई है. प्रशासन को पहले से ही पता था कि सीएम शिवराज का हेलीकॉप्टर प्रदेश अध्यक्ष बीडी शर्मा (BD Sharma) के पैतृक गांव सुज्जनपुर में लैंड करेगा. उसके बाद भी जिला प्रशासन ने पहले से हेलीपैड पर लाइट की व्यवस्था नहीं की. हेलीपैड पर पूरी तरह अंधेरा छाया हुआ था.

ये भी पढ़ें- एमपी उपचुनाव: ग्वालियर-चंबल में दल-बदल को बनाया जा रहा जीत का आधार

गाड़ियों की रोशनी में हुई सीएम शिवराज के हेलीकॉप्टर की लैंडिंग

लाइट न होने की वजह से जब सीएम शिवराज का हेलीकॉप्टर रात के अंधेरे में मुरैना पहुंचा, तो उसे लैंडिंग में काफी परेशानी हुई. जिला प्रशासन ने मौके पर खड़ी सभी गाड़ियों की लाइट जलाई और उसके बाद मुख्यमंत्री के हेलीकॉप्टर की लैंडिंग कराई जा सकी.

बतादें कि सीएम शिवराज सिंह (CM Shivraj Singh Chauhan) और ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotraditya Sindhya) बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा के पिता स्वर्गीय अमरसिंह डंडौतिया को श्रद्धांजलि देने उनके गांव सुरजनपुर पहुंचे थे. अमरसिंह डंडौतिया के नाम पर गांव में एक प्राइमरी हेल्थ सेंटर भी खोला जाएगा, ताकि आसपास के लोगों को इलाज के लिए दूसरी जगहों पर न जाना पड़े.

ये भी पढ़ें- मध्य प्रदेश में किसान कर्जमाफी की बात स्वीकार कर घिरी शिवराज सरकार

शिवराज, ज्योतरादित्य ने रुस्तम सिंह के घर खाया खाना

अमरसिंह (Amar Singh) डंडौतिया को श्रद्धांजलि देने के बाद बीजेपी नेता पूर्व मंत्री रुस्तम सिंह (Rushtam Singh) के बानमोर निवास पर खाना खाने भी पहुंचे, इस दौरान सीएम शिवराज ने रुस्तम सिंह और उनके बेटे की बहुत तारीफ की. सीएम शिवराज ने रुस्तम सिंह की तारीफ करते हुए कहा कि अब मुरैना (Morena) विधानसभा उन्हें ही संभालनी है. साथ ही ज्योतिरादित्य सिंधिया ने रुस्तम सिंह के बेटे राकेश को युवा और उत्साही बताया. सिंधिया ने राकेश सिंह से कहा कि जिस तरह आपने हमारे स्वागत में पूरा भोजन घर में बनवाया है, उसी तरह पार्टी को घर में जिताना है. बतादें कि विधानसभा उपचुनाव को लेकर बीजेपी पूरी तरह अलर्ट पर है  और जीत के लिए कोई कोर कसर नहीं छोड़ रही है.

Related Posts