‘बॉलीवुड को शिफ्ट करने का प्रयास बर्दाश्त नहीं’, सीएम ठाकरे के बयान पर गरमाई राजनीति

एक्टर रजा मुराद (Raza Murad) ने कहा, “बॉलीवुड को बदनाम करने की कोशिश की जा रही थी. जिन लोगों को ड्रग्स मामले में पूछा गया, उन्हें अरेस्ट नहीं किया गया. बॉलीवुड का गौरवशाली इतिहास है. दूसरे प्रदेश में चाहे तो नया फिल्मसिटी बना सकते हैं और कई जगह पहले से भी है.”

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 3:39 pm, Fri, 16 October 20

महाराष्ट्र (Maharashtra) के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे द्वारा बॉलीवुड (Bollywood) के लोगों को समर्थन देने और फिल्म इंडस्ट्री को यहां से दूसरी जगह पर शिफ्ट करने पर दिए बयान को लेकर कई तरह की प्रतिक्रियाएं आ रही हैं. मालूम हो कि सीएम ठाकरे ने कहा था कि हिंदी फिल्म उद्योग की छवि को नुकसाने पहुंचाने और इसे ‘समाप्त’ करने या ‘कहीं और स्थानांतरित किए जाने’ का प्रयास बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. ठाकरे ने कहा, “वैश्विक स्तर पर बॉलीवुड का अनुसरण किया जाता है. फिल्म उद्योग भारी संख्या में रोजगार पैदा करता है. पिछले कुछ दिनों में, कुछ निश्चित लोगों द्वारा फिल्म उद्योग की छवि खराब करने का प्रयास किया गया, जोकि काफी कष्टदायक है.”

अब महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना भी इसमें कूद गई है. मनसे के नेता अमेय खोपकर ने ट्वीट करके अपनी प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने कहा, “भूतकाल में भी बॉलीवुड के कलाकारों पर गंभीर केस हुआ, उन्हें सजा हुई लेकिन कभी किसी ने बॉलीवुड के अन्य लोगों को खलनायक नहीं बनाया. लेकिन अब जानबूझकर बॉलीवुड को बदनाम करने की साजिश रची जा रही है. सिर्फ इतना नहीं, बल्कि बॉलीवुड को यहां से हटाने की कुटिल साजिश भी की जा रही है.”

महाराष्ट्र: लेटर वार के बाद MLC नियुक्ति पर खींचतान, मुख्यमंत्री-राज्यपाल का विवाद गहराया

अमेय खोपकर ने कहा कि मनसे कभी ऐसा होने नहीं देगी. टेक्निशियन से लेकर कलाकर तक किसी को घबराने की जरूरत नहीं है, जिसका कारण है कि राजसाहेब ठाकरे की महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना आपके पीछे है, आगे भी रहेगी. ये हमारा शब्द है.

बीजेपी नेता अमरजीत मिश्रा का बयान

बीजेपी नेता अमरजीत मिश्रा ने कहा कि मुख्यमंत्री जब तक अपने निवास से बाहर नहीं निकलते हैं तब तक जमीनी हकीकत उन्हें समझ नहीं आएगी. वो देवेंद्र फडणवीस की सरकार के जो अच्छे फैसले हैं, उन्हें बदलने का काम कर रहे हैं.

उन्होंने कहा, “फिल्मसिटी जो 521 एकड़ में फैली है, उसे 2050 करोड़ में डिवेलप करने का निर्णय पुरानी सरकार ने लिया था. लेकिन इस सरकार ने एक साल में उसे लेकर कोई फैसला नहीं किया. सांस्कृतिक मंत्री ने अब तक तो फिल्मसिटी का दौरा तक नहीं किया. ऐसी ही सुविधाओं का अभाव रहा तो यह इंडस्ट्री कहीं और चली जाएगी.”

‘कुछ लोग बॉलीवुड बनाने का सपना देख रहे’

एनसीपी नेता नवाब मलिक ने कहा, “जो बॉलीवुड को बदनाम करने की कोशिश करेगा, सीएम ने साफ किया है कि उससे कड़ाई से निपटेंगे. उत्तर प्रदेश में आम जनता सुरक्षित नहीं है. जो लोग बॉलीवुड बनाने का सपना देख रहे हैं, उसमें कोई तथ्य नहीं है.”

‘मुंबई की शान है बॉलीवुड’

शिवसेना प्रवक्ता प्रताप सरनाईक ने कहा, “बॉलीवुड मुंबई की शान है. बीजेपी के राज में बॉलीवुड को उत्तर प्रदेश में ले जाने की साजिश होगी तो शिवसेना होने नहीं देगी. बॉलीवुड को कोई बदनाम करेगा तो शिवसेना रास्ते में उतरकर आंदोलन करेगी.

उन्होंने कहा कि सुशांत सिंह राजपूत मामले को लेकर बॉलीवुड को बदनाम किया गया. इसके लिए एक साजिश रची गइ जिसमें कुछ नेता शामिल थे.

रजा मुराद की प्रतिक्रिया

एक्टर रजा मुराद ने कहा, “बॉलीवुड को बदनाम करने की कोशिश की जा रही थी. जिन लोगों को ड्रग्स मामले में पूछा गया, उन्हें अरेस्ट नहीं किया गया. बॉलीवुड का गौरवशाली इतिहास है. दूसरे प्रदेश में चाहे तो नया फिल्मसिटी बना सकते हैं और कई जगह पहले से भी है. इससे रोजगार बढ़ेगा लेकिन ये कोई कॉम्पिटिशन नहीं चल रहा है. बॉलीवुड की जो बुनियाद मुंबई में है उसे कोई हिला नहीं सकता है.”

राज्यपाल और सीएम के बीच वार-पलटवार के बाद महाराष्ट्र की सियासत में उबाल