मुंबई: लोकल ट्रेनें शुरू होने को लेकर फैला भ्रम, रेलवे स्टेशनों पर फूटा महिलाओं का गुस्सा

महिलाओं (Womens) के पास उचित जानकारी नहीं होने की वजह से वह पहले से ही रेलवे स्टेशनों (Railway Stations) पर पहुंच गईं, लेकिन गंतव्य तक पहुंचने से पहले ही उन्हें वापस लौटा दिया गया.

महाराष्ट्र सरकार ने महिलाओं को खास सौगात देने की योजना बनाई थी, लेकिन रेलवे विभाग से सरकार की मंशा पर पानी फेर दिया.

महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) ने नवरात्रि के मौके पर महिलाओं को खास सौगात (Gift For Women) देने की योजना बनाई थी, लेकिन रेलवे विभाग (Railway) से सरकार की मंशा पर पानी फेर दिया, जिसकी वजह से नवरात्रि (Navratri) के पहले दिन ही मुंबई के रेलवे स्टेशनों पर काफी हंगामा देखने को मिला.

महिलाओं के पास उचित जानकारी (Information) नहीं होने की वजह से वह पहले से ही रेलवे स्टेशनों (Railway Stations) पर पहुंच गईं, लेकिन गंतव्य तक पहुंचने से पहले ही उन्हें वापस लौटा (Return) दिया गया. इस दौरान मीरारोड स्टेशन पर कई महिलाओं की सुरक्षा कर्मियों के साथ बहस हो गई, इस वजह से महिलाएं बहुत गुस्से में दिखीं. कुल मिलाकर महिलाओं की उम्मीदों पर पानी फिरता दिखा.

ये भी पढ़ें- मुंबई: दिव्यांगों और कैंसर रोगियों को लोकल ट्रेनों में सफर की मिली इजाजत

भ्रम की वजह से रेलवे स्टेशनों पर पहुंचीं महिलाएं

दरअसल उद्धव सरकार ने फैसला लिया था कि 17 अक्टूबर से महिलाओं के लिए मुंबई लोकल ट्रेन एकबार फिर से शुरू की जाएगी, इसके लिए समय भी निर्धारित किया गया था. मुंबई लोकल शुरू होने को लेकर महिलाओं में भ्रम की स्थिति रही, जिसकी वजह से वह पहले से ही रेलवे स्टेशनों पर पहुंच गईं.

रेलवे ने सरकार की उम्मीदों पर फेरा पानी

हालांकि महाराष्ट्र सरकार के इस फैसले को रेलवे की अनुमति नहीं मिली, रेलवे ने कहा कि इतनी जल्दी महिलाओं के लिए मुंबई लोकल शुरू नहीं की जा सकती. ट्रेनें शुरू करने से पहले उन्हें कोरोना नियमों का भी आंकलन करना होगा.

ये भी पढ़ें- लगातार भारी बारिश से मुश्किल में मुंबई, कई इलाकों में जलजमाव से लोकल ट्रेन थमी-ट्रैफिक जाम

बतादें कि कोरोना महामारी की वजह से मुंबई में भी लोकल ट्रेनों को सफर भी पूरी तरह से ठप हो गया था, जिसके बाद सिर्फ आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों के लिए ही ट्रेनों में सफर की अनुमति दी गई है. आम लोगों के लिए अभी भी लोकल नहीं खोली गई है, महाराष्ट्र सरकार नवरात्र में महिलाओं को खास तोहफा देने की योजना बना रही थी. सरकार चाहती थी कि लोकल ट्रेनों में महिलाओं को भी यात्रा की अनुमति दी जाए, लेकिन रेलवे ने सुरक्षा नियमों का हवाला देते हुए सरकार के प्रस्ताव को ठुकरा दिया.

Related Posts