संजय राउत ने मांगा शिवाजी के वंशज से सबूत तो BJP ने पुलिस से की शिकायत

बीजेपी विधायक के मुताबिक संजय राउत के बयान से शिवाजी महाराज को माननेवाले लोगों की भावना को ठेस पहुंचा है.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 12:13 pm, Thu, 16 January 20
Sanjay-raut
संजय राउत ने सवाल उठाया कि क्या वैक्सीन सिर्फ उन्हीं लोगों को मिलेगी, जो बीजेपी को वोट देंगे.

शिवाजी के वंशज को लेकर संजय राउत द्वारा दिए गए बयान पर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने लिखित शिकायत की है. इस शिकायत पर बयान देते हुए संजय राउत ने कहा कि शिकायत करने दो यह विपक्ष का काम होता है.

संजय राउत ने कहा, “महाराष्ट्र में विपक्ष है, लोकतंत्र है. चाहे बीजेपी के वरिष्ठ नेता जो दिल्ली में बैठे हैं वे विपक्ष को नहीं मानते हों, लेकिन हम महाराष्ट्र में हमेशा विपक्ष की प्रतिष्ठा का ध्यान रखते हैं. जो भी उनको करना है कर सकते हैं. हम लोकतंत्र को मानते हैं. यह महाराष्ट्र छत्रपति शिवाजी महाराज के जमाने से लोकतंत्र को मानने वाला राज्य है.”

“छत्रपति शिवाजी महाराज का दरबार लोकतंत्र के माध्यम से चलता था. छत्रपति शिवाजी महाराज के काल में भी उनके विरोधियों को सम्मान दिया जाता था, इसीलिए तो अफजल खान को मारने के बाद भी शिवाजी ने उनके लिए कब्रिस्तान बनाने के लिए प्रतापगढ़ के नीचे जगह दी थी. यह हमारी परंपरा रही है और हम शिवाजी महाराज की परंपरा को लेकर जा रहे हैं.”

हमें पढ़ाने की जरुरत नहीं, मालूम है क्या करना है

शिवाजी महाराज के वंशज पर किसी भी तरह की बयानबाजी से साफ इंकार करते हुए राउत ने कहा, “मैंने शिवाजी के वंशज पर कोई बयान नहीं दिया है. शिवाजी महाराज का जो इतिहास है वही महाराष्ट्र का इतिहास है. सिर्फ इतिहास महाराष्ट्र का ही है. बाकी सब राज्यों का सिर्फ भूगोल है, इसीलिए हम कहते हैं कि छत्रपति शिवाजी महाराज महाराष्ट्र में जन्में हैं और यह इतिहास है. इस इतिहास के बारे में किसी को हमें पढ़ाने की जरुरत नहीं है. हमें मालूम है क्या करना है.”

“पूरा महाराष्ट्र छत्रपति शिवाजी महाराज का वंशज है. 11 करोड़ जनता वंशज है. छत्रपति शिवाजी महाराज के हम सब लोग वंशज हैं, इसलिए हमेशा लड़ने वाला संघर्ष करने वाला बना. यह छत्रपति शिवाजी महाराज का खून जो है, सिर्फ एक फैमिली में नहीं जाता है. यह प्रेरणा है, उर्जा है और रहेगा. अगर कोई व्यक्ति जो राजा है, वह हमारे बारे में कुछ भी कहेंगे, लोकतंत्र है.”

जवाब देने का हर नागरिक का अधिकार

राउत आगे बोले, “बालासाहेब ठाकरे के बारे में कुछ कहेंगे, शरद पवार के बारे में, शिवसेना के बारे में कुछ कहेंगे तो आपको अधिकार है बोलने का. देश के हर नागरिक अधिकार है आपको जवाब देने का. आदर करते हैं छत्रपति शिवाजी महाराज के वंशज हैं. आपका आदर करते हैं, लेकिन आप हमारे मुंह में कुछ भी डालेंगे, हाथ पैर तोड़ने की भाषा करेंगे. छत्रपति शिवाजी महाराज के दरबार में अगर कोई इस तरह की भाषा बोलता था तो वो उनका हाथ पैर तुड़वा देते थे. ये इतिहास है.”

बीजेपी विधायक राम कदम द्वारा घाटकोपर पुलिस स्टेशन में लिखित शिकायत करके शिवसेना नेता संजय राउत पर मामला दर्ज करने की मांग की गई है. संजय राउत ने शिवाजी के वंशज उदयनराजे भोसले से उनके छत्रपति शिवाजी महाराज का वंशज होने का सबूत मांगा था, जिसके चलते बीजेपी विधायक ने लिखित शिकायत की है.

विधायक के मुताबिक संजय राउत के बयान से शिवाजी महाराज को माननेवाले लोगों की भावना को ठेस पहुंचा है.

ये भी पढ़ें-   निर्भया के मुजरिम मुकेश की दया याचिका खारिज, अब राष्‍ट्रपति की मुहर का इंतजार

लंदन में सोनम कपूर पर जोर-जोर से क्यों चिल्लाया कैब ड्राइवर?