Rajasthan: बागी विधायकों की तरफ से युद्ध विराम का संकेत, सचिन पायलट पर बनाया प्रेशर

राजस्थान में कांग्रेस के बागी विधायक अब युद्ध विराम का पैगाम पार्टी के शीर्ष नेतृत्व तक पहुंचाना चाहते हैं. इसके लिए सचिन पायलट पर अब प्रेशर भी बनाया जा रहा है.

  • Supriya Bhardwaj
  • Publish Date - 3:05 pm, Mon, 10 August 20

राजस्थान में राजनीतिक संकट के बीच सचिन पायलट (sachin pilot) और उनके गुट के नरम पड़ने के संकेत मिले हैं. राजस्थान में सचिन पायलट खेमे से युद्ध विराम का पैगाम पार्टी के शीर्ष नेतृत्व तक पहुंचाने की कोशिश की जा रही है. बागी विधायकों ने सचिन पायलट पर इसके लिए प्रेशर बनाया है कि वह पार्टी लीडरशिप से बात करें. यह भी सुनने में आया है कि पायलट ने पार्टी के पूर्व चीफ राहुल गांधी से मिलने का वक्त मांगा है.

सूत्रों के मुताबिक 18 बागी विधायकों ने सचिन पायलट पर दबाव बनाया है कि एक बार फिर से पार्टी के लीडरशिप से बात करें. यह युद्ध विराम के पैगाम जैसा है.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

सचिन ने मांगा पार्टी लीडरशिप से मिलने का वक्त

सचिन पायलट ने कांग्रेस लीडरशिप से मिलने का वक्त मांगा है. खबरों के मुताबिक, सचिन फिलहाल कांग्रेस के सीनियर नेता अहमद पटेल और केसी वेणुगोपाल के संपर्क में हैं। वह आगे राहुल गांधी से मिलना चाहते हैं.

कांग्रेस की बैठक में पायलट कैंप पर एक्शन की मांग

इस बीच कांग्रेस विधायकों की तरफ से पायलट गुट के रास्ते बंद करने की मांग उठ रही है. जैसलमेर के सूर्यगढ़ फोर्ट रिसॉर्ट में राजस्थान कांग्रेस की विधायक दल की बैठक हुई थी. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक विधायक दल की बैठक में कांग्रेस विधायकों ने पायलट कैंप (Pilot Camp) को लेकर जमकर भड़ास निकाली और बागियों के खिलाफ एक्शन लेने की मांग की.

वापसी का रास्ता नहीं खोला जाएगा

प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे (Avinash Pandey) ने विधायक दल की बैठक में गहलोत समर्थक विधायकों को इस बात का भरोसा दिलाया है कि अब कांग्रेस हाईकमान के सामने पायलट गुट के विधायकों की कोई बात नहीं रखी जाएगी और न ही उनकी वापसी का कोई रास्ता अपनी तरफ से खोला जाएगा.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे