बारां में दो नाबालिगों से गैंगरेप, सीएम गहलोत बोले- हाथरस से न जोड़ें, मर्जी से गई थीं लड़कियां

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने कहा कि बारां की घटना की तुलना हाथरस जैसी वीभत्स (Loathsome) घटना से करके मीडिया का एक वर्ग देश की जनता को गुमराह करने का काम कर रहा है. लड़कियों ने बयानों में अपनी मर्जी से लड़कों के साथ घूमने जाने की बात कही.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 11:31 am, Thu, 1 October 20
राजस्थान के बारां से दो नाबालिगों के साथ गैंगरेप का मामला सामने आया है

उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश के बाद अब राजस्थान (Rajasthan) में भी दो नाबालिगों के साथ गैंगरेप ( Gang Rape) का मामला सामने आया है. आरोप है कि राजस्थान के बारां (Baran) से दो नाबालिग लड़कियों को कोटा और जयपुर ले जाकर दो लड़कों ने तीन दिनों तक उनका गैंगरेप किया. वहीं पुलिस बच्चियों के साथ गैंगरेप की घटना से इनकार कर रही है. पुलिस (Police) का कहना है कि लड़कियों ने अपने बयान में गैंगरेप की बात से इनकार किया है.

इस मामले में राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने ट्वीट कर कहा कि बारां की घटना की तुलना हाथरस जैसी वीभत्स घटना से करके मीडिया का एक वर्ग देश की जनता को गुमराह करने का काम कर रहा है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि घटना होना एक बात है और घटना पर कार्रवाई होना दूसरी बात है. अगर घटना हुई तो कार्रवाई भी तुरंत की गई.

ये भी पढ़ें- मध्य प्रदेश: खरगोन में घर से अगवा कर नाबालिग से गैंगरेप, तीनों आरोपी फरार

सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot)ने कहा कि लड़कियों ने खुद मजिस्ट्रेट के सामने दिए गए बयानों में अपनी मर्जी से लड़कों के साथ घूमने जाने, और उनके साथ ज्यादती न होने की बात कही. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि लड़कियों का मेडिकल (Medical)  कराया गया. जांच में पता चला है कि लड़के भी नाबालिग हैं, आगे की जांच अब भी जारी है.

लड़कियों के पिता ने पुलिस को दिए बयान में आरोप लगाया कि दोनों आरोपी 18 सितंबर की रात को उनकी 13 और 15 साल की बेटियों को बहला फुसलाकर अपने साथ जिले से बाहर ले गए. आरोपी उन्हें कोटा और जयपुर लेकर गए और तीन दिनों तक उनके साथ गैंगरेप किया. 21 सितंबर को दोनों लड़कियां कोटा में मिली थीं.

पुलिस ने दावा किया कि नाबालिग लड़कियों ने अपने बयान में रेप के आरोपों से इनकार किया है, जबकि दोनों बच्चियों ने कैमरे के सामने खुद नशीला पदार्थ पिलाकर गैंगरेप की बात स्वीकार की थी. परिवार का आरोप है कि उन्हें आरोपियों के खिलाफ शिकायत दर्ज नहीं करने की धमकी दी गई थी.

ये भी पढ़ें- अलवर में भांजे के सामने महिला से दुष्कर्म, रेप का अश्लील वीडियो किया वायरल

पीड़ित परिवार का आरोप है कि दो लड़के बारां से उनकी नाबालिग बच्चियों को कथित तौर पर अपहरण कर जयपुर और कोटा ले गए, जहां आरोपियों ने तीन दिनों तक उनके साथ गैंगरेप किया. हालांकि पुलिस गैंगरेप के आरोपों से इनकार कर रही है.