गोंडा: तीन नाबालिग दलित लड़कियों पर एसिड फेंकने वाला आरोपी गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के गोंडा जिले (Gonda) में तीन नाबालिग दलित लड़कियों पर एसिड फेंकने (Acind Attack) वाले आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है. ये गिरफ्तारी मंगलवार रात को हुई.

गोंडा: तीन नाबालिग दलित लड़कियों पर एसिड फेंकने वाला आरोपी गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के गोंडा जिले (Gonda) में तीन नाबालिग दलित लड़कियों पर एसिड फेंकने (Acind Attack) वाले आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है. ये गिरफ्तारी मंगलवार रात को हुई. आरोपी आशीष को हुजूरपुर इलाके में पुलिसकर्मियों के साथ मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया गया. वह मुठभेड़ के दौरान घायल हो गया था, जिसके बाद उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (SSP) महेंद्र कुमार (Mahendra Kumar) ने कहा, ‘तीन नाबालिग लड़कियों पर एक एसिड जैसा केमिकल फेंके जाने के बाद पारसपुर पुलिस स्टेशन में आरोपी आशीष के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया था’. पुलिस ने बताया कि ‘आरोपी आशीष उर्फ छोटू उम्र में बड़ी एक लड़की से दोस्ती करना चाहता था, मगर उसने मना कर दिया, जिसके बाद आशीष ने एसिड जैसे एक केमिकल से उसपर हमला कर दिया. जानकारी के मुताबिक लड़कियों पर केमिकल तब फेंका गया था, जब वे छत पर सो रही थीं’.

ये भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश: गोंडा में तीन दलित नाबालिग बहनों पर एसिड से हमला, एक की हालत गंभीर

एसएसपी महेंद्र कुमार ने कहा कि ‘देर रात आरोपी आशीष मोटरसाइकिल पर देखा गया, पुलिस की जीप देखते ही उसकी बाइक फिसल गई और उसने पुलिस पर गोलियां चला दीं, पुलिस ने जवाबी कार्रवाई की और आरोपी को पकड़ लिया, उसके पैर में गोली लगी है, उसे गिरफ्तार कर लिया गया है और इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया है, आरोपी की बाइक को जब्त कर लिया गया है और उसके कब्जे से एक पिस्तौल और कारतूस बरामद किया गया है.

बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोंडा के पुलिस अधीक्षक (एसपी) को निर्देश दिया था कि अपराधी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए और लड़कियों को तत्काल आर्थिक सहायता प्रदान की जाए और उचित इलाज सुनिश्चित किया जाए. एसिड हमले में झुलसी 17, 12 और 7 वर्ष की आयु की तीन नाबालिग बहनों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां उनका इलाज चल रहा है. एसपी शैलेश कुमार पांडेय ने कहा कि ‘तीनों लड़कियों में एक लड़की 7 प्रतिशत तक झुलसी है जबकि अन्य दो लड़कियां 20 प्रतिशत और 30 प्रतिशत तक झुलस गई हैं. डॉक्टर इस हमले में इस्तेमाल केमिकल की जांच कर रहे हैं’.

ये भी पढ़ें: पश्चिम बंगाल: दुर्गा पूजा के सांस्कृतिक कार्यक्रमों को ममता बनर्जी की हरी झंडी, मानने होंगे ये नियम

Related Posts