कोरोना संकट के चलते आर्थिक तंगी में लोग, मायावती ने कहा, ‘स्कूल माफ करें बच्चों की फीस’

मायावती ने ट्वीट कर कहा कि कोरोना लॉकडाउन के चलते देश आर्थिक मंदी की चपेट में हैं, जिसके चलते करोड़ों लोगों के सामने बच्चों की फीस जमा करने का संकट खड़ा हो गया है.

  • TV9.com
  • Publish Date - 6:45 pm, Sat, 12 September 20
Mayawati, BSP
agriculture bill

बहुजन समाज पार्टी (BSP) सुप्रीमो और उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती (Mayawati) ने देश भर के अभिभावकों के लिए राहत की मांग की है. मायावती ने देश में संकट के दौर में सरकारी और प्राइवेट स्कूलों से सभी बच्चों की फीस माफ (Fees Waive) करने की मांग की है. मायावती ने इसे देश के भविष्य को संकट के दौर से उबारने का बड़ा रास्ता बताया है.

सोशल मीडिया पर BSP सुप्रीमो काफी एक्टिव रहती हैं. उन्होंने दो ट्वीट किए. मायावती ने लिखा ”कोरोना लॉकडाउन से संक्रमित देश की आर्थिक मंदी से भीषण बेरोजगारी और जीवन में अभूतपूर्व संकट झेल रहे करोड़ों लोगों के सामने बच्चों की फीस जमा करने की समस्या संगीन होकर अब धरना-प्रदर्शन आदि के रूप में सामने आई है और उन्हें पुलिस के डंडे खाने पड़ रहे हैं, जो अति-दुःखद.”

अगले ट्वीट में उन्होंने लिखा ”ऐसे ’एक्ट आफ गॉड’ के समय में संवैधानिक मंशा के अनुरूप सरकार को कल्याणकारी राज्य होने की भूमिका खास तौर से काफी बढ़ जाती है. केंद्र और राज्य सरकारें अपने शाही खर्चे में कटौती कर सरकारी और प्राइवेट स्कूल फीस की प्रतिपूर्ति करें अर्थात व्यापक जनहित में बच्चों की स्कूल फीस माफ करें.”