बलिया हत्याकांड: BJP विधायक के करीबी पर गोली मारने का आरोप, SDM-CO निलंबित

अपर मुख्य सचिव, गृह, अवनीश कुमार अवस्थी (Awanish Kumar Awasthi) ने कहा, "मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एसडीएम, सीओ और घस्टनास्थल पर मौजूद पुलिस अधिकारियों को तुरंत निलंबित करने का आदेश दिया है. साथ ही आरोपी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का सख्त निर्देश है."

Ballia
(घटनास्थल के वीडियो का स्क्रीनशॉट)

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के बलिया (Ballia) जिले में गुरुवार को स्थानीय पुलिस (Police) की मौजूदगी में एक शख्स की गोली मारकर हत्या कर दी गई. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने इस मामले में घटनास्थल पर मौजूद अधिकारियों को निलंबित करने का आदेश दिया है. 46 वर्षीय जयप्रकाश को कथित तौर पर धर्मेंद्र सिंह नाम के शख्स ने गोली मारी. आरोपी धर्मेंद्र बीजेपी का कार्यकर्ता बताया जाता है और पार्टी विधायक सुरेंद्र सिंह का करीबी है.

गोली चलते ही घटनास्थल पर अफरातफरी मच गई. लोग घबराकर इधर-उधर भागने लगे. एएनआई की ओर से जारी वीडियो में देखा जा सकता है कि तीन राउंड गोली फायर होने की आवाज आती है. इसके बाद लोग खेत में इधर-उधर भागने और चिल्लाने लगते हैं. ये लोग बहुत ही डरे और घबराए हुए नजर आ रहे हैं.

‘राशन की दुकानों के आवंटन को लेकर चल रही थी बैठक’

जिले के दुर्जनपुर गांव में पीड़ित को कथित तौर पर गोली मारी गई. एसपी देवेंद्र नाथ ने बताया, “राशन की दुकानों के आवंटन को लेकर बैठक चल रही थी. इसी दौरान यहां मौजूद लोगों के बीच बहस होने लगी जिसके बाद एक अधिकारी ने बैठक रद्द करने की घोषणा कर दी.”

यूपी में पुलिस और SDM के सामने हत्या, सरकारी गल्ले की दुकान को लेकर झड़प में एक की मौत

बैठक एक टेंट में हो रही थी जहां पर बड़ी संख्या में लोग जमा थे. स्थानीय लोगों ने बताया कि प्रशासन और पुलिस अधिकारी भी बैठक में मौजूद थे.

विधायक सुरेंद्र सिंह का घटना पर बयान

विधायक सुरेंद्र सिंह ने कहा, “इस तरह की घटना कहीं भी हो सकती है. घटना में दोनों तरफ से पत्थरबाजी हुई. कानून इस मामले में अपनी कार्रवाई करेगा.”

पीड़ित के भाई ने जो शिकायत दर्ज कराई है उसके आधार पर अबतक 15-20 लोगों के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज किया है. हालांकि अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है. वहीं, सीएम योगी ने इस मामले में सब-डिविजनल मजिस्ट्रेट, उच्च पुलिस अधिकारी और अन्य लोगों को निलंबित करने का आदेश दिया है.


‘आरोपी के खिलाफ हो सख्त कार्रवाई’

अपर मुख्य सचिव, गृह, अवनीश कुमार अवस्थी ने लखनऊ में कहा, “मामले को गंभीरता से लेते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एसडीएम, सीओ और घस्टनास्थल पर मौजूद पुलिस अधिकारियों को तुरंत निलंबित करने का आदेश दिया है. साथ ही आरोपी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का निर्देश है.”

उन्होंने कहा कि मामले में अधिकारियों की भी जांच होनी चाहिए और दोषी पाए जाने पर उनके खिलाफ एक्शन लिया जाना चाहिए. कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए गांव में बड़ी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है.

यूपी: महिला सुरक्षा के लिए ‘मिशन शक्ति’, सीएम योगी बोले- 9 दिन नहीं, 6 महीने चलेगा अभियान

Related Posts