धर्म परिवर्तन रोकने को अध्यादेश लाएगी योगी सरकार? बढ़ते ‘लव जिहाद’ के मामलों का दिया हवाला

उत्तर प्रदेश में बढ़ते कथित लव जिहाद के मामलों (Love Jihad UP) का हवाला देते हुए राज्य सरकार जल्द एक नया कानून ला सकती है. इसे अध्यादेश जाकर जल्द लागू किया जा सकता है.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 12:56 pm, Fri, 18 September 20
yogi aditynath

उत्तर प्रदेश में बढ़ते कथित लव जिहाद के मामलों (Love Jihad UP) का हवाला देते हुए राज्य सरकार जल्द एक नया कानून ला सकती है. इसे जल्द अध्यादेश लाकर लागू किया जा सकता है. यह कानून धर्म परिवर्तन (Religious conversion) पर लगाम लगाने वाला होगा. इसको लेकर उत्तर प्रदेश का कानून विभाग काम कर रहा है. देश की बात करें तो अभी 8 राज्यों में धर्म परिवर्तन को लेकर कानून बने हुए हैं.

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, कानून विभाग के सीनियर अधिकारी ने कहा, ‘यह (कानून निर्माण) काम प्रोसेस में है. दूसरे राज्यों में धर्म परिवर्तन पर क्या नियम-कानून हैं इसपर चर्चा चल रही है, उनके अध्यन के बाद यूपी का कोई अपना कानून बनेगा.’

पढ़ें – सिर्फ कानपुर में कथित लव जिहाद के 11 मामले दर्ज, फोन डीटेल से लेकर बैंक अकाउंट तक खंगाल रही यूपी पुलिस

इन 8 राज्यों में हैं धर्म परिवर्तन कानून

बता दें कि फिलहाल देश के 8 राज्यों में धर्म परिवर्तन पर लगाम लगाने वाले कानून हैं. इसमें अरुणाचल प्रदेश, ओडिशा, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, गुजरात, हिमाचल प्रदेश, झारखंड और उत्तराखंड का नाम शामिल है. बता दें कि सबसे पहले ओडिशा ने 1967 में यह कानून बनाया था. फिर दूसरे नंबर पर मध्य प्रदेश (1968) इस कानून को लेकर आया था. अब जल्द यूपी 9वां ऐसा राज्य बन सकता है.

दिया लव जिहाद के मामलों का हवाला

खबर के मुताबिक, कानून विभाग के अधिकारी ने कहा कि इसके पीछे हाल में सामने आए लव जिहाद के कथित मामले हैं. अधिकारी ने कहा कि ऐसे 11 केस सिर्फ कानपुर जिले से सामने आए हैं. विभिन्न राज्यों में मौजूद धर्म परिवर्तन रोधी कानून किसी शख्स को धर्म परिवर्तन करवाने या उसकी कोशिश करने से रोकता है. वह चाहे सीधे तौर पर ऐसा कर रहा हो या फिर अप्रत्यक्ष रूप से. बता दें कि हाल ही में संघ प्रमुख मोहन भागवत जब लखनऊ पहुंचे थे तो उन्होंने भी यह मुद्दा उठाया था.