बिहार विधानसभा चुनाव: RLSP की नाराजगी आई सामने, पार्टी ने आनन-फानन में बुलाई बैठक

महागठबंधन (Mahagathbandhan) के घटक दल राष्ट्रीय लोकसमता पार्टी (RLSP) भी सीट बंटवारे को लेकर नाराज बताई जा रही है. इस बीच पार्टी ने गुरुवार को पार्टी की बैठक बुलाई है.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 12:18 am, Thu, 24 September 20
RLSP Upendra Kushwaha

बिहार में इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर जहां सभी राजनीतिक दल अब तैयारी में जुटे हैं. वहीं राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के नेतृत्व वाले महागठबंधन में सीट बंटवारे में हो रही देरी को लेकर नाराजगी अब खुलकर सामने आने लगी है.

IANS के मुताबिक, महागठबंधन (Mahagathbandhan) के घटक दल राष्ट्रीय लोकसमता पार्टी (RLSP) भी सीट बंटवारे को लेकर नाराज बताई जा रही है. इस बीच पार्टी ने गुरुवार को पार्टी की बैठक बुलाई है.

महागठबंधन के सूत्रों का कहना है कि सीट बंटवारे को लेकर RLSP नाराज हो गई है. कहा तो यहां तक जा रहा है कि आरजेडी नेतृत्व आरएलएसपी को 10 से कम सीटें देना चाहती है, जबकि RLSP ने 35 सीटों की मांग की है. रालोसपा के प्रमुख और पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा इस मामले को लेकर राजद नेता तेजस्वी यादव से भी मिल चुके हैं.

“कांग्रेस-RJD में भी अब तक नहीं बैठा सामंजस्य”

इधर, पार्टी के महासचिव आनंद माधव कहते हैं कि यह चिंता की बात है कि महागठबंधन के दो सबसे बड़े दल कांग्रेस-आरजेडी में भी अब तक सामंजस्य नहीं बैठा है. इससे लोग चिंतित हैं, लोगों में गलत संदेश भी जा रहा है. उन्होंने कहा, “गुरुवार को राष्ट्रीय और प्रदेश कार्यकारिणी के साथ हम सभी परिस्थितियों पर मंथन करेंगे और बैठक में जो भी तय होगा, उस पर पार्टी अमल करेगी.”

महागठबंधन सें नाराजगी के संबंध में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि नाराजगी की बात नहीं है, लेकिन लोगों में संदेश गलत जा रहा है. सभी की इच्छा महागठबंधन को मजबूत करने की रही है.

 

मालूम हो कि इससे पहले महागठंबधन छोड़कर पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी की पार्टी हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा राजग में शामिल हो चुकी है. गौरतलब है कि पिछले लोकसभा चुनाव के पहले रालोसपा राजग को छोड़कर महागठबंधन में शामिल हुई थी.