जरूरत पड़ी तो राज्‍यों में राष्‍ट्रपति शासन लगाकर लागू करेंगे CAA, BJP सांसद की चेतावनी

बता दें कि मध्य प्रदेश, पश्चिम बंगाल, राजस्थान, पंजाब और केरल की राज्य सरकारों ने नए नागरिकता कानून (Citizenship Act) को लागू करने से इनकार किया है.

  • TV9.com
  • Publish Date - 1:30 pm, Sat, 4 January 20

होशंगाबाद से बीजेपी सांसद राव उदय प्रताप सिंह ने राज्यों को चेतावनी दी है. उन्होंने कहा कि जो राज्य नागरिकता कानून (CAA) को लागू नहीं करेंगे, राष्ट्रपति को ऐसे राज्यों की सरकार को तुरंत बर्खास्त कर देना चाहिए और वहां राष्ट्रपति शासन लगा देना चाहिए.

सांसद उदय प्रताप सिंह ने अपने बयान में कहा, “केंद्र सरकार अगर कोई कानून बनाती है तो सभी राज्य उसे लागू करने के लिए बाध्य हैं. क्योंकि वह लोक सभा और राज्य सभा दोनों सदनों से ही पास हुआ है.” सांसद उदय प्रताप इतने पर ही नहीं रुके बल्कि जिन राज्यों ने CAA को लागू न करने की बात कही वहां की सरकारों को चेतावनी तक दे डाली.

सांसद ने कहा, ” इनको यह नहीं पता कि भारत एक गणतंत्र राज्य है. अगर संसद से पास किए गए कानून को कोई राज्य लागू नहीं करेगा, तो राष्ट्रपति को वहां की सरकार भंग कर देनी चाहिए.” उन्होंने आगे कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो केंद्र सरकार राज्यों की सरकार को भंग कर के भी इस कानून को लागू कराएगी.

बता दें कि मध्य प्रदेश, पश्चिम बंगाल, राजस्थान, पंजाब और केरल की राज्य सरकारों ने नए नागरिकता कानून (Citizenship Act) को लागू करने से इनकार किया है.

ये भी पढ़ें: बेल्लारी के BJP विधायक ने नागरिकता कानून के विरोधियों को धमकाया, कहा- ‘नखरे मत करो’