लगातार भारी बारिश से मुश्किल में मुंबई, कई इलाकों में जलजमाव से लोकल ट्रेन थमी-ट्रैफिक जाम

मौसम विभाग (IMD) के एक अधिकारी ने कहा कि बुधवार को पिछले चौबीस घंटों में लगातार हुई बारिश (Rain) के दौरान सांताक्रूज में 286.4 एमएम बारिश दर्ज की गई, जो साल 1974 के बाद चौथी बार बारिश का सबसे ज्यादा रिकॉर्ड रहा.

मुंबई (Mumbai) में बुधवार को हुई तेज बारिश (Heavy Rain) की वजह से सड़कों पर जलभराव की स्थित बन गई, जिसकी वजह से शहर के कई हिस्सों में ट्रैफिक की दिक्कत देखी गई. अधिकारियों ने कहा कि बुधवार को हुई भारी बारिश ने मुंबई को रातोंरात धराशायी कर दिया, जिससे महानगर के कई हिस्से गहरे पानी में डूब गए और रेल और सड़क यातायात बाधित हो गया. मौसम विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि बुधवार को पिछले चौबीस घंटों में लगातार हुई बारिश के दौरान सांताक्रूज में 286.4 एमएम बारिश दर्ज की गई, जो कि सन 1974 के बाद चौथी बार बारिश का सबसे ज्यादा रिकॉर्ड रहा.

पुलिस के एक अधिकारी (Police Officer) ने कहा कि भारी बारिश की वजह से अग्रीपाड़ा इलाके में दो चौकीदारों की मौत हो गई. दरअसल चौकीदार जलभराव की वजह से जान बचाने के लिए इमारत के अंदर लिफ्ट में घुस गए थे.मुंबई के  गोरेगांव, मलाड और दहिसर जैसे इलाकों में भी जलभराव देखा गया. मुंबई पुलिस (Mumbai Police) ने ट्वीट किया कि ‘अंधेरी सब-वे में करीब 6 इंच ऊंचाई तक पानी भर गया, हालांकि मुंबई वालों की सुविधाजनक आवागमन सुनिश्चित करने के लिए डीएन नगर पुलिस स्टेशन से ट्रैफिक खोल दिया गया है’.

ये भी पढ़ें- मुंबई बारिश: जान बचाने के लिए लिफ्ट में घुसे दो वॉचमैन, पानी भर जाने से दोनों की मौत

बारिश की वजह से कैजुअल्टी वार्ड में शिफ्ट कोविड आउट पेशेंट विभाग

अधिकारियों ने कहा कि मध्य मुंबई के म्युनिसिपल नायर अस्पताल (Hospital) परिसर में बने कोविद -19 के आउट पेशेंट विभाग को जलभराव की वजह से अस्थाई तौर पर इमारत के अंदर कैजुअल्टी वार्ड में शिफ्ट कर दिया गया है. अस्पताल के एक डॉक्टर ने कहा कि बारिश की वजह से अस्पताल में सामान्य ओपीडी को अस्थायी रूप से बंद कर दिया गया, सिर्फ इमरजेंसी मामले ही देखे जा रहे हैं.

 

ये भी पढ़ें- मुंबई में मूसलाधार बारिश: कई इलाकों में जलजमाव-लोकल ट्रेन सेवाएं ठप्प, बाहर निकलें तो बरतें एहतियात

एक नागरिक अधिकारी ने कहा कि रात भर हुई बारिश की वजह से कई निचले इलाकों में जलभराव हो गया और सड़क यातायात भी बुरी तरह प्रभावित हुआ. उन्होंने कहा कि कुछ वाहन पानी में बह गए. मुंबई के नगरपालिका आयुक्त इकबाल सिंह चहल ने कहा बुधवार को भारी बारिश की वजह से जरूरी सेवाओं को छोड़कर शहर के सभी कार्यालय और प्रतिष्ठान बंद कर दिए गए. इसके साथ ही मुंबई वालों से अपील की गई कि जब तक बहुत जरूरी न हो लोग अपने घरों से बाहर न निकलें. बतादें कि मौसम विभाग ने बुधवार को मुंबई में तेज बारिश का पूर्वानुमान जताया था.

Related Posts