मीडिया में करियर बनाना चाहती थीं रोशनी नडार, पढ़ें- देश की सबसे अमीर महिला की Success Story

जब रोशनी (Roshni Nadar Malhotra) ने पिता को बिजनेस आगे बढ़ाने के लिए संघर्ष करते हुए देखा तो उन्होंने अपना सपना और पसंंद दोनों ही किनारे कर दिए.
hcl chairperson roshni nadar malhotra, मीडिया में करियर बनाना चाहती थीं रोशनी नडार, पढ़ें- देश की सबसे अमीर महिला की Success Story

काबिल हो तो कामयाबी कदम चूमती है. और ये साबित किया रोशनी नडार मल्होत्रा (Roshni Nadar Malhotra) ने. रोशनी वो शख्सियत हैं, जिन्हें भले ही बिजनेस पिता शिव नडार (Shiv Nadar) से विरासत में मिला है. पर अपनी सूझबूझ, फैसलों और काबिलियत के दम पर रोशनी आज भारत की सबसे अमीर महिला हैं. शिव नडार द्वारा एचसीएल (HCL Technologies) के चेयरमैन का पद छोड़ने के बाद अब रोशनी ने यह अहम जिम्मेदारी संभाली है. नोएडा बेस्ड आईटी कंपनी एचसीएल की नई चेयरपर्सन अब रोशनी हैं.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

पिता की कंपनी को शिखर तक पहुंचाया

पिता की एक कमरे से शुरू की गई कंपनी को कैसे रोशनी ने आगे बढ़ाया और कैसे वो देश की सबसे अमीर महिला बनीं, आज हम इस पर तो बात करेंगे ही. साथ ही आज रोशनी को जरा करीब से जानेंगे कि उनका बचपन कैसा बीता और उनका सपना क्या था.

38 वर्षीय रोशनी की कामयाबी के पीछे की कहानी कई लोगों को प्रेरित करती है. रोशनी तमिलनाडु के नेल्लई में नडार परिवार में जन्मीं. पिता शिव नडार ने 1976 में करीब 2 लाख रुपये की मदद से एक कमरे में कंपनी शुरू की. जिसका नाम रखा एचसीएल टेक्नोलॉजीज़. रोशनी का पालन-पोषण दिल्ली में ही हुआ है.

बिजनेस करना नहीं था सपना

उन्होंने वसंत वैली स्कूल से पढ़ाई की है. इसके बाद रोशनी ने अमेरिका की नॉर्थ-वेस्टर्न यूनिवर्सिटी से रेडियो, टीवी एंड फिल्म की पढ़ाई की है. रोशनी का सपना कभी भी पिता का बिजनेस संभालना नहीं था. वो मीडिया में ही अपना करियर बनाना चाहती थीं.

शुरुआत उन्होंने सीएनएन और सीएनएनबीसी में इंटर्नशिप के साथ की. फोर्ब्स को दिए एक इंटरव्यू में रोशनी ने बताया था कि स्काई न्यूज में उन्हें पहली नौकरी मिली थी. यहां रोशनी बतौर न्यूज प्रोड्यूसर काम करती थीं. इतना ही नहीं रोशनी की म्यूजिक में भी काफी रुचि रही है. उन्होंने शास्त्रीय संगीत की भी शिक्षा ली है.

वन मैन आर्मी की तरह काम करती हैं रोशनी

जब रोशनी ने पिता को बिजनेस आगे बढ़ाने के लिए संघर्ष करते हुए देखा, तो उन्होंने अपना सपना और पंसद दोनों ही किनारे कर दिए. रोशनी अपने माता-पिता की इकलौती संतान हैं, इसलिए वो पहले से जानती भी थीं कि एक दिन उन्हें अपनी पसंद को छोड़कर जिम्मेदारियों को चुनना पड़ेगा. इसलिए रोशन ने पहले ही अमेरिका के केलॉग्स स्कूल ऑफ मैनेजमेंट से बिजनेस की पढ़ाई कर ली थी. रोशनी ने पिता की कंपनी को संभाला और उसे इंडस्ट्री में मजबूती से खड़ा करने में जुट गईं. कहा जाता है कि कई विशेष प्रोजेक्ट्स पर रोशनी वन मैन आर्मी की तरह काम करती हैं.

रोशनी नडार की लव लाइफ

वहीं रोशन की पर्सनल लाइफ की बात करें तो ये बात बहुत कम लोग जानते हैं कि उन्होंने सात साल तक शिखर मल्होत्रा को डेट किया था और उसके बाद दोनों ने शादी की. दोनों की मुलाकात कुछ कॉमन फ्रेंड्स के जरिए हुई थी. फॉर्ब्स को दिए इंटरव्यू में रोशनी ने अपनी शादी को लेकर खुलकर बात की थी. उन्होंने बताया था कि शिखर शादी से पहले होंडा कार कंपनी के डिस्ट्रिब्यूटर के तौर पर काम करते थे. फिलहाल अब वो भी एचसीएल से जुड़े हुए हैं. रोशनी और शिखर के दो बेटे हैं.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts