बच्ची के साथ उसकी गुड़िया को भी चढ़ा प्लास्टर, डॉक्टर दोनों को देते हैं दवाई-इंजेक्शन

जब बच्ची दो महीने की थी तभी से उसे गुड़िया से बेहद लगाव है. घर पर कुछ भी खाने-पीने के लिए पहले गुड़िया को देना पड़ता है इसके बाद ही वो खाती है.